साईं बाबा के निधन पर शोक

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

सत्य साईं बाबा के निधन पर कई राजनेताओं और बाबा के कई नामीगिरामी भक्तों ने शोक जताया है.

राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल, प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और वरिष्ठ भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी ने भी सत्य साईं बाबा के निधन पर शोक व्यक्त किया है.

आडवाणी का कहना था कि वो जब भी साईं बाबा से मिले उन्हें उनसे प्रेरणा मिली.

उन्होंने बताया कि इमरजेंसी के दौरान जब वो जेल में थे तो उनकी पत्नी साईं बाबा से उनके आश्रम में मिलीं.

आडवाणी का कहना था, “साईं बाबा ने मेरी पत्नी से कहा कि तुम्हारे पति बहुत जल्द जेल से छूट जाएंगे. और जैसे ही मेरी पत्नी घर पहुंचीं तो जेल सुपरिंटेंडेंट का फ़ोन आया कि आडवाणी को रिहा किया जा रहा है.”

आडवाणी ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि साईं बाबा का जीवन लाखों के लिए प्रेरणा का श्रोत और अनुकरणीय बनेगा.

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण ने उन्हें “जीते-जागते भगवान” की संज्ञा दी और कहा कि साईं बाबा की आत्मा हमेशा उनके भक्तों का मार्गदर्शन करती रहेगी.

पाकिस्तान के जानेमाने क्रिकेट खिलाड़ी ज़हीर अब्बास, श्रीलंका के पूर्व कप्तान अर्जुन राणातुंगा, सचिन तेंदुलकर, सुनील गावस्कर सभी उनके भक्त रहे हैं.

ज़हीर अब्बास ने एक टीवी चैनल से बात करते हुए कहा, “ये दिन लाखों लोगों के लिए शोक का दिन है. मैं जब भी उनसे मिलता था वो एक अलग कमरे में मुझसे बात करते थे और मुझे जीवन के प्रति सजग रहने का सुझाव देते थे.”

एआईएडीएमके प्रमुख जयललिता ने उनकी मौत को मानवता के लिए एक बड़ा आघात बताया.

संबंधित समाचार