अमरीका में तूफ़ान, 290 की मौत

एलेबामा तूफ़ान इमेज कॉपीरइट AP
Image caption तूफ़ान की भविष्यवाणी करनेवाली संस्था का कहना है कि बवंडरों की तादाद सौ से ज़्यादा थी.

अमरीका के दक्षिणी क्षेत्र में बुधवार को आए भयंकर तूफ़ान में कम से कम 290 लोग मारे गए है. मौसम विभाग ने आशंका जा़हिर की है कि देश के पूर्वी इलाकों में भी ऐसे तूफ़ान का ख़तरा है.

अमरीका के मौसम विभाग ने कहा है कि ये पिछले 40 वर्षों में किसी तूफ़ान के कारण मरने वालों की सर्वाधिक संख्या है.

कुछ घंटो पहले तक तूफ़ान में मारे जानेवालों की तादाद 220 के आसपास बताई जा रही थी.

अधिकारियों का कहना है कि मृतकों की संख्या में इज़ाफ़ा हो सकता है.

दक्षिणी अमरीका के छह राज्य इस तूफ़ान से बहुत ज़्यादा प्रभावित हुए हैं.

तूफ़ान का सबसे ज़्यादा असर एलेबामा राज्य में हुआ है जहाँ अधिकारियों के मुताबिक़ मारे जाने वालों की संख्या 130 पार कर गई है.

राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इस तूफ़ान को विनाशकारी करार दिया है. वो शुक्रवार को एलेबामा के दौरे पर जा रहे हैं. उन्होंने ने नागरिकों को हर तरह की मदद का आश्वासन दिया है.

अमरीका में तूफ़ान की भविष्यवाणी करनेवाली संस्था का कहना है कि उनके पास ख़बर है कि एक के बाद एक आए 130 से ज़्यादा बवंडरों ने पूरे इलाक़े को नेस्तनाबूद कर दिया है.

संस्था का कहना है कि ये अमरीका के इतिहास के सबसे भयंकर तूफ़ानों में से एक है.

ओबामा

विडियो फुटेज में साफ़ देखा जा सकता है कि किस तरह भयानक बवंडर शहरी इलाकों को चीरकर भीतर घुसे और तबाही मचाई.

इसने अपने रास्ते में आनेवाली हर एक चीज़ की धज्जियाँ उड़ा दी और बड़ी-बड़ी इमारतों को समतल कर दिया.

एलेबामा के टस्कलूसा में बवंडर ने शहर के बड़े इलाक़े को समतल कर दिया है.

एलेबामा, मिसीसिपी और जियोरजिया ने आपातकाल की घोषणा कर दी है और तूफ़ान से बाद की स्थिति से निपटने के लिए नेशनल गार्ड को तैनात कर दिया गया है.

संबंधित समाचार