राजसी वैभव के साथ हुई शाही शादी

ब्रिटेन की शाही शादी

प्रिंस विलियम और केट मिडलटन

प्रिंस विलियम ने सेना के कर्नल की वर्दी में शादी समारोह में भाग लिया

ब्रिटेन में प्रिंस विलियम और केट मिडलटन की शाही शादी राजसी वैभव के साथ संपन्न हुई है.

हज़ार साल पुराने वेस्टमिंस्टर एबी में एंग्लिकन चर्च के शीर्ष धर्मगुरू आर्चबिशप रोवन विलियम्स ने वर-वधू को शादी की शपथ दिलाई और उन्हें पति-पत्नी घोषित किया.

विवाह प्रधानमंत्री डेविड कैमरन, पॉप गयाक एल्टन जॉन और फ़ुटबॉल डेविड बेकम समेत 1900 अतिथियों की मौजूदगी में संपन्न हुआ.

ब्रितानी सेना में अधिकारी प्रिंस विलियम आइरिश गार्ड्स कर्नल की लाल पोशाक में जबकि केट आइवरी पोशाक में शादी समारोह में शामिल हुए.

महारानी एलिज़ाबेथ ने विलियम को ड्यूक ऑफ़ कैम्ब्रिज की उपाधि दी है, जबकि केट अब डचेस ऑफ़ कैम्ब्रिज के नाम से जानी जाएंगी.

उत्सव का माहौल

लंदन में उत्सव का माहौल है, और शाही शादी से जुड़ी परंपराओं से दर्शक के रूप में जुड़ने के लिए हज़ारों लोग बीती रात से ही उन सड़कों पर जमा थे जहाँ से होकर विलियम और केट की शाही सवारी बकिंघम पैलेस पहुँचनी थी.

शाही युगल 1902 में बनी उसी बग्घी का इस्तेमाल किया जो कि 1981 में प्रिंस चार्ल्स और डायना की शादी में उपयोग में लाई गई थी.

बाद में बकिंघम पैलेस के झरोखे से नवविवाहित दंपति ने फ़्लाईपास्ट देखी. हज़ारों लोगों के सामने विलियम और केट ने दो बार एक-दूसरे को चूमा.

अनुमान है कि पूरी दुनिया में लगभग दो अरब लोगों ने टेलीविज़न पर शादी समारोह का सीधा प्रसारण देखा.

बारिश की आशंकाओं के बीच शादी समारोह के दौरान मौसम ख़ुशनुमा रहा.

लंदन के अलावा पूरे ब्रिटेन में लोग जगह-जगह लोग स्ट्रीट-पार्टी आयोजित कर अपनी ख़ुशियाँ मना रहे हैं. आज पूरे ब्रिटेन में विशेष छुट्टी रखी गई है.

मध्यमवर्गीय केट

केट विलियम से सेंट एंड्रूज़ यूनिवर्सिटी में पढ़ाई के दौरान मिली थीं

केट का मिडिलटन का पूरा नाम कैथरीन एलिज़ाबेथ मिडिलटन है, नौ जनवरी 1982 को उनका जन्म रेडिंग शहर में हुआ था.

मध्यवर्गीय परिवार से आने वाली केट अपने तीन भाई बहनों में सबसे बड़ी हैं, केट जब दो साल की थीं तो उनके पिता नौकरी करने जॉर्डन चले गए थे जहाँ उनका परिवार ढाई साल तक रहा.

केट जॉर्डन की राजधानी अम्मान की एक नर्सरी में जाया करती थीं, 1986 में तब केट चार साल की थीं तब उनका परिवार ब्रिटेन वापस लौट आया और केट का दाख़िला सेंट एंड्रूज़ स्कूल में करा दिया गया जहाँ वे 1995 तक पढ़ीं.

इसके बाद विल्टशर के मार्लबरो कॉलेज से उन्होंने रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान की पढ़ाई की.

केट को टेनिस, हॉकी, नेटबॉल और एथलेटिक्स का शौक़ रहा है, वे अपने स्कूल का प्रतिनिधित्व विभिन्न स्तरों पर करती रही हैं, ऊँची कूद में उन्हें महारत हासिल रही है.

एक अच्छी छात्रा के रूप में उन्हें ड्यूक ऑफ़ एडिनबरा गोल्ड अवार्ड भी मिल चुका है.

मुलाक़ात

वे इटली के फ्लोरेंस में स्थित ब्रिटिश इंस्टीट्यूट से पढ़ाई कर चुकी हैं, उन्होंने 2001 में प्रतिष्ठित सेंट एंड्रूज़ यूनिवर्सिटी में दाख़िला लिया जहाँ से उन्होंने कला के इतिहास में ग्रैजुएशन किया है.

वे यूनिवर्सिटी की हॉकी टीम की खिलाड़ी रही हैं, इसी यूनिवर्सिटी में पढ़ाई के दौरान उनकी मित्रता प्रिंस विलियम से हुई.

अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद केट अपना पारिवारिक कारोबार संभाल रही थीं, पार्टी पीसेज़ नाम की उनकी कंपनी पार्टियों के आयोजन के लिए सामान मेल ऑर्डर पर भेजती है.

इसके अलावा केट लंदन में बच्चों के कपड़ों की दुकान चलाने वाली एक कंपनी के लिए भी पार्ट टाइम काम कर चुकी हैं.

2008 में केट ने एक और कंपनी शुरू की थी जो पार्टी पीसेज़ का ही हिस्सा था, इस कंपनी का फर्स्ट बर्थडेज़ था, यह कंपनी बच्चों का पहला जन्मदिन आयोजित करने का जिम्मा लेती है.

केट को पेंटिंग और फोटोग्राफ़ी का भी शौक़ रहा है.

लगभग दो साल पहले ख़बरें आई थीं कि प्रिंस विलियम और केट का रिश्ता ख़त्म हो गया है लेकिन कुछ ही समय बाद दोनों फिर से एक साथ देखे जाने लगे.

सिंहासन के उत्तराधिकारी

1997 में माँ के अंतिम संस्कार के दौरान मामा और पिता के साथ खड़े विलियम और हैरी

प्रिंस विलियम ब्रिटेन के सिंहासन के दूसरे उत्तराधिकारी हैं, अपने पिता प्रिंस चार्ल्स के बाद.

21 जून 1982 को विलियम आर्थर फ़िलिप लुइस यानी प्रिंस विलियम का जन्म ब्रिटेन के लिए एक बड़ी घटना थी और जन्म के फ़ौरन बाद से ही वे सुर्खियों में बने रहे.

सितंबर 1985 में उन्हें लंदन के जेन मायनर्स नर्सरी स्कूल भेजा गया और दो साल बाद वेदरबी स्कूल.

1990 में विलियम ने बर्कशर में लुडग्रोव स्कूल में दाख़िला लिया और प्रख्यात स्कूल – ईटन कॉलेज – जाने से पहले पाँच साल तक वहीं पढ़े.

स्कूली जीवन के दिनों में ही विलियम को दो बड़ी व्यक्तिगत घटनाओं से गुज़रना पड़ा – पहले माता-पिता का तलाक़ और उसके बाद 1997 में पेरिस में कार दुर्घटना में अपनी माँ डायना की मौत.

विलियम के स्कूली जीवन के दौरान उनके पिता प्रिंस चार्ल्स ने प्रेस के साथ एक समझौता किया जिसके तहत प्रेस ने विलियम और उनके छोटे भाई हैरी का पीछा करना छोड़ा और बदले में राजपरिवार समय-समय पर उन्हें तस्वीरें जारी करता रहा.

विलियम ने ईटन कॉलेज से ब्रिटेन में इंटरमीडिएट के समकक्ष मानी जानेवाली परीक्ष – ए लेवल – में भूगोल, जीव विज्ञान और कला-इतिहास की पढ़ाई की.

केट से मुलाक़ात

स्कूली जीवन के बाद प्रिंस विलियम ने स्कॉटलैंड में फ़ाइफ़ स्थित सेंट एंड्र्यूज़ विश्वविद्यालय में पढ़ाई शुरू की.

विश्वविद्यालय के बाद प्रिंस विलियम ने भाई हैरी के साथ सैन्य प्रशिक्षण लिया

वहीं उनकी मुलाक़ात उसी विश्वविद्यालय की छात्रा केट मिडलटन से हुई. विलियम और उनके दोस्तों ने वहाँ एक कॉटेज किराए पर लिया, केट भी उनमें शामिल थीं.

विलियम ने 2005 में वहाँ से अच्छे ग्रेड से भूगोल में स्नातक की पढ़ाई पूरी की.

इसके बाद उन्होंने सैनिक प्रशिक्षण के लिए अपने छोटे भाई हैरी का साथ चुना जो पहले से ही सैंडहर्स्ट में रॉयल मिलिटरी एकेडमी में सैन्य अधिकारी की ट्रेनिंग ले रहे थे.

कई महीनों के अभ्यास के बाद प्रिंस विलियम ने 2006 से सेना के लिए काम करना शुरू किया और कई मोर्चों पर गए.

वर्ष 2007 में उनके सैन्य जीवन के दौरान ही उनके और केट मिडलटन के बीच कुछ महीने तक संबंध टूटा रहा.

मगर कुछ अर्से बाद ही दोनों के संबंध फिर सामान्य हो गए और विलियम अपनी भावी भूमिका की तैयारी के लिए चैरिटी और दूसरे कामों में व्यस्त रहे.

वे अपनी माँ का अनुकरण करते हुए बेघर युवाओं की एक चैरिटी संस्था सेंटरप्वाइंट के पैट्रन या संरक्षक बन गए.

दिसंबर 2009 में उन्होंने लंदन की सड़क पर बेघरों की तरह एक स्लीपिंग बैग में रात बिताई.

वे फ़ुटबॉल संगठन के भी अध्यक्ष हैं और कई और ट्रस्टों के पैट्रन हैं.

पिछले साल नवंबर में सगाई की घोषणा के दो दिन पहले वे अफ़ग़ानिस्तान में ब्रिटिश सैनिकों के पास गए थे.

सहानुभूति

ब्रिटेन में विलियम और उनके छोटे भाई हैरी की माँ की असामयिक मृत्यु के कारण दोनों भाइयों को लेकर एक सहानुभूति की भावना रही है.

लंदन में छोटे भाई हैरी के स्कूल जाने के पहले दिन माँ डायना के साथ दोनों भाई

लोग 1997 के उस दिन को याद करते हैं जब वेस्टमिंस्टर ऐबी में डायना के अंतिम संस्कार के दिन 15 साल के विलियम अपने छोटे भाई हैरी, पिता, दादा और मामा के साथ अपनी माँ के ताबूत के पीछे चल रहे थे.

प्रिंस विलियम अपनी माँ के साथ हुए बर्ताव से काफ़ी आहत थे जो प्रिंस चार्ल्स के साथ अपने संबंधों की शुरूआत के बाद से अपनी मौत के दिन तक फ़ोटोग्राफ़रों से परेशान रहीं.

केट के साथ विलियम के संबंध की बात सामने आने के बाद जब फ़ोटोग्राफ़र केट के पीछे पड़ने लगे तो प्रिंस विलियम इससे बेहद नाराज़ हुए.

उन्होंने अपने सहयोगियों के माध्यम से ये संदेश देने की कोशिश की कि वे चाहते हैं कि केट को अकेला छोड़ दिया जाए.

लेकिन सगाई की घोषणा के दिन से से ही केट एक बार फिर सुर्खियों में हैं.

और एक दिन ब्रिटेन के सिंहासन पर बैठनेवाले प्रिंस विलियम सोच रहे होंगे – क्या कभी वे उस प्रेस से पीछा छुड़ा सकेंगे जिसकी छाया उनके जीवन पर हर घड़ी बनी रही.

तस्वीरों में शाही जोड़ी

चुंबन और अन्य वीडियो

इस ऑडियो/वीडियो के लिए आपको फ़्लैश प्लेयर के नए संस्करण की ज़रुरत है

वैकल्पिक मीडिया प्लेयर में सुनें/देखें

बकिंघम पैलेस के झरोखे पर शाही चुंबन.

इस ऑडियो/वीडियो के लिए आपको फ़्लैश प्लेयर के नए संस्करण की ज़रुरत है

वैकल्पिक मीडिया प्लेयर में सुनें/देखें

साथ जीने-मरने की कसमें.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.