गूगल की विज्ञापन प्रणाली की जांच

  • 11 मई 2011
इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption गूगल की विज्ञापन प्रणाली की जांच

गूगल ने कहा है कि अमरीकी क़ानून मंत्रालय उसकी विज्ञापन प्रणाली की जांच कर रहा है.

इंटरनेट कंपनी ने कहा है कि अमरीकी जांच के बाद उन पर संभावित आरोप की आशंका को देखते हुए कंपनी ने 50 करोड़ डॉलर की राशि अलग रख दी.

अमरीकी जांच में इस बात का पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि गूगल की स्वचालित विज्ञापन प्रणाली कुछ बेनाम विज्ञापन देनेवालों का चयन किस आधार पर करती है.

इसी तरह की एक जांच की तैयारी यूरोपीय संघ भी कर रहा है.

विज्ञापन से गूगल को होनेवाली आमदनी 2011 की पहली तिमाही में 8.3 अरब डॉलर तक पहुंच गई है.

गूगल ने क़ानून मंत्रालय की जांच की बात अमरीकी प्रतिभूति और विनिमय आयोग को दी जानकारी में स्वीकार की है.

गूगल का कहना है कि 50 करोड़ डॉलर की राशि अलग रखने की वजह से इस साल के पहले तीन महीनों में कंपनी को होनेवाले शुद्ध मुनाफ़े में कमी आएगी.

कंपनी के मुताबिक़ 14 अप्रैल को मुनाफ़े की राशि 2.3 अरब डॉलर घोषित की गई थी जो अब घटकर 1.8 अरब डॉलर रह जाएगी.

मंगलवार को जारी अपने बयान में कंपनी ने कहा है,''हमें नहीं पता कि क़ानून मंत्रालय जांच में क्या कुछ निकलकर आएगा. हम यही उम्मीद करते हैं कि इसका कंपनी के कारोबार, उसकी वित्तीय स्थिति और नक़दी की आवाजाही पर कोई प्रतिकूल असर नहीं पड़ेगा.''

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार