इतिहास के पन्नों से

soviet_soldier
Image caption दूसरे विश्वयुद्ध के बाद सोवियत संघ कऔर पश्चिमी देशों के संबंध ख़राब होते चले गए.

आज ही के दिन 1955 में सोवियत संघ और पूर्वी यूरोप के उसके सहयोगी देशों ने पोलैंड की राजधानी वॉरसॉ में एक संधि पर हस्ताक्षर किए जिसे इतिहास में वॉरसॉ संधि के नाम से जाना गया.

इस संधि के ज़रिए सोवियत संघ, पोलैंड, पूर्वी जर्मनी, चेकोस्लोवाकिया, हंगरी, रोमेनिया, बल्गेरिया और अल्बेनिया ने आर्थिक, सैन्य और सांस्कृतिक संबंधों को प्रगाढ़ करने का फ़ैसला किया.

दरअसल ये संधि पश्चिमी जर्मनी को सोवियत-विरोधी सैन्य संगठन नेटो में शामिल किए जाने के जवाब में की गई थी.

विनी मंडेला को सज़ा

14 मई 1991 को दक्षिण अफ़्रीक़ा के रंगभेद विरोधी नेता नेल्सन मंडेला की पत्नी विनी मंडेला को चार युवकों के अपहरण के लिए छह साल की सज़ा सुनाई गई.

अपील दायर किए जाने पर उन्हें ज़मानत पर रिहा कर दिया गया.

जिस महिला को तीन दशक से भी ज़्यादा समय तक दक्षिण अफ़ीक़ी संघर्ष के प्रतीक के तौर पर देखा जाता था, अपहरण के आरोप लगने के बाद उनकी साख को भारी धक्का लगा.

स्थायी अड्डा

आज ही के दिन 1607 में अँग्रेज़ों ने उत्तरी अमरीका में अपना पहला स्थायी अड्डा बनाया.

इस जगह का नाम अँग्रेज़ों ने जेम्स टाउन, वर्जीनिया रखा. इंग्लैंड के राजा जेम्स प्रथम ने लंदन की वर्जीनिया कंपनी को इस काम पर लगाया था.