सांसदों के ख़िलाफ़ फ़ेसबुक पर अभियान

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption नेपाली सांसदों के ख़िलाफ़ फ़ेसबुक पर चल रहे अभियान में जुटे युवा

हज़ारों नेपाली युवा पिछले कई दिनों से देश के सांसदों के ख़िलाफ़ फ़ेसबुक पर एक अभियान चला रहे हैं.

उनकी मांग है कि अगर सांसद इस महीने के अंत तक नया संविधान तैयार नहीं कर पाएं तो उनका वेतन बंद कर दिया जाए.

नेपाल के सांसदों को नया संविधान बनाने के लिए 28 मई तक की समय सीमा दी गई है लेकिन इस बात की संभावना नहीं है कि वो ऐसा कर पाएंगे.

फ़ेसबुक पर शुरु हुए इस अभियान को नाम दिया गया है 'नेपाल यूनाइट्स' यानि नेपाल एकजुट है.

इसमें युवा व्यावसायी, अभियानकर्ता, यहां तक कि वर्तमान नेपाल सुंदरी 'मिस नेपाल' भी शामिल हैं.

उनका कहना है कि या तो सांसद 28 मई तक नया संविधान तैयार कर लें या इस्तीफ़ा दे दें.

इनमें से एक ने लिखा है, “हम चाहते हैं कि राजनेता जनता की मांग पर ध्यान दें और नेतृत्व का प्रदर्शन करें”.

नेपाल में माओवादी विद्रोहियों और सरकार के बीच दस साल तक चले संघर्ष का अंत होने के बाद 2008 में संविधान सभा के 601 सदस्यों का चुनाव हुआ था.

उन्हे 2010 तक एक नया संविधान लिखने का काम सौंपा गया था.

लेकिन आपसी लड़ाई झगड़े की वजह से वो सत्ता की साझेदारी पर सहमत नहीं हो पाए और ये समय सीमा साल भर के लिए बढ़ानी पड़ी.

सरकार ने स्वीकार किया है कि इस साल की समय सीमा भी बिना किसी नतीजे के पार हो जाएगी.

लेकिन अब देश के नागरिकों में ग़ुस्सा बढ़ता जा रहा है कि जिन्हे उन्होने देश चलाने के लिए चुना था वो बस सत्ता की लड़ाई में व्यस्त हैं.

संबंधित समाचार