कंधार में मज़दूरों पर हमला, 10 की मौत

  • 24 मई 2011
कंधार हाईवे इमेज कॉपीरइट PA

अफ़गानिस्तान के दक्षिणी प्रांत कंधार में सड़क निर्माण में जुटे मज़दूरों से भरे ट्रक के बम की चपेट में आने से कम कम से 10 मज़दूरों की मौत हो गई है और 28 अन्य घायल हो गए हैं.

किसी भी गुट ने इस हमले की ज़िम्मेदारी नहीं ली है. पिछले हफ़्ते अफ़गानिस्तान के पाकतिया प्रांत में बंदुकधारियों ने हाईवे पर काम करने 35 मज़दूरों को मार दिया था.

सड़क निर्माण में जुटे मज़दूरों को तालिबान अकसर निशाना बनाते रहते हैं.

अफ़गानिस्तान में ये पिछले चार दिनों में चौथा हमला है.

समाचार एजेंसी एएफ़पी के अनुसार हमले का निशाना बने मज़दूर कंधार प्रांत के ग्रामीण ज़िले पंजवाई में काम पर जा रहे थे.

कंधार तालिबान का आध्यात्मिक केंद्र माना जाता है. इसी महीने कई तालिबान लड़ाकों ने कंधार शहर की कई सरकारी इमारतों को अपने कब्ज़े में लेने का प्रयास किया था.

इस क्षेत्र में अफ़गान और विदेशी सैनिक पर भी कई हमले होते रहे हैं.

सैनिक गिरफ़्तार

पिछले एक हफ़्ते में अफ़गानिस्तान में चरमपंथी कार्रवाईयों में बहुत अधिक बढ़ोतरी हुई है.

शनिवार को काबुल के एक अस्पताल पर आत्मघाती धमाके में छह लोगों की मौत हो गई थी. रविवार ख़ोस्त शहर में बंदूकधारियों ने एक सरकारी इमारत पर धावा बोल दिया था. इस घटना में छह लोग मारे गए थे.

सोमवार को पूर्वी लघमान प्रांत में एक भीड़-भाड़ वाले बाज़ार में हुए एक आत्मघाती धमाके में चार लोगों की मौत हो गई थी.

अफ़गानिस्तान की ख़ुफ़िया सेवा के एक प्रवक्ता ने सोमवार को पत्रकारों को बताया कि शनिवार को अस्पताल पर हुए हमले के लिए कई विद्रोहियों को गिरफ़्तार किया गया है.

गिरफ़्तार किए गए लोगों में से एक अफ़गान नेशनल आर्मी का सैनिक भी है. ये सैनिक अस्पताल में ही तैनात था और इसपर हमलावर को वर्दी और पहचानपत्र मुहैया करवाने का आरोप है.

संबंधित समाचार