लॉकहीड प्रमुख को मारा जाना था: हेडली

  • 1 जून 2011
Image caption डेविड हेडली ने मुंबई हमलों के बारे में कई नई जानकारियां दी हैं.

शिकागो की अदालत में चल रहे मुंबई हमलों के मामले के अभियुक्त डेविड हेडली ने कहा है कि अल क़ायदा के नेता इलियास कश्मीरी की योजना ड्रोन विमानों के निर्माता कंपनी लॉकहीड मार्टिन के प्रमुख को मारने की भी थी.

हेडली का कहना था कि अफ़गानिस्तान पाकिस्तानी सीमा पर लगातार ड्रोन हमलों से अल क़ायदा नेता कश्मीरी बहुत परेशान थे और इसीलिए वो लॉकहीड मार्टिन के प्रमुख कार्यकारी को मारना चाहते थे.

हेडली ने कहा, ‘‘ इलियास कश्मीरी की योजना लॉकहीड मार्टिन के प्रमुख को मारने की थी क्योंकि वो ड्रोन विमान बनाते थे.’’

हेडली ने बताया कि लॉकहीड मार्टिन के प्रमुख को निशाना बनाने के लिए कश्मीरी ने अमरीका में अपने जासूसों को काम पर भी लगाया था ताकि कंपनी के प्रमुख के बारे में अधिक जानकारी जुटाई जा सके.

हेडली ने इस पूरे मामले में कई आरोप कबूल कर लिए हैं और इसी मामले के एक अन्य अभियुक्त कनाडा के निवासी तहव्वुर राणा के ख़िलाफ़ गवाही देना भी स्वीकार कर लिया है.

पूछताछ के दौरान हेडली ने कहा कि उनके हिसाब से आईएसआई के कुछ ही लोग मुंबई में हुए हमले की साज़िश में शामिल थे.

यह पूछे जाने पर कि क्या वो ये कहना चाहते हैं कि आईएसआई प्रमुख की इसमें मिलीभगत नहीं थी तो हेडली ने कहा, ‘हां’

राणा के वकील ने हेडली से कई सवाल जवाब किए जिस दौरान हेडली ने ये भी माना कि मौत की सज़ा और पाकिस्तान, भारत या डेनमार्क प्रत्यर्पण से बचने के लिए उन्होंने अमरीकी सरकार से ये समझौता कर लिया है कि वो राणा के ख़िलाफ़ गवाही देंगे.

हेडली के बयानों से आईएसआई के कुछ अधिकारियों और लश्कर ए तैयबा के बीच संबंधों की काफी जानकारी मिली है.

हेडली ने कहा कि उन्हें 26 नवंबर को मुंबई में मारे गए लोगों का दुःख है.

अमरीकी सरकार के साथ समझौते के कारण हेडली को कई सुविधाएं भी मिली हैं. सुविधाओं के तहत वो अपनी पत्नी और बच्चों से भी मिल सकते हैं.

हेडली का कहना था, ‘‘ मैंने अपनी पत्नी शाज़िया से कहा है कि मैं किताब लिखूंगा. अगर मैं किताब लिखूंगा तो मुझे बहुत पैसे मिलेंगे.’’

हेडली का व्यक्तित्व काफी पेचीदगियों भरा रहा है. मानसिक बीमारियों के बारे में पूछे जाने पर हेडली का कहना था कि उन्हें इसके बारे में कुछ ठीक से याद नहीं है लेकिन वकील कह रहे है तो वो इस बात को मान लेते हैं.

संबंधित समाचार