यमन में विद्रोही सना में घुसने की कोशिश में

यमन में सरकारी बलों और विद्रोहियों में लड़ाई इमेज कॉपीरइट AFP

यमन की राजधानी सना से ख़बरें मिल रही हैं कि हज़ारों क़बायली लड़ाके वहाँ घुसने की कोशिश कर रहे हैं.

इसको राष्ट्रपति अली अब्दुल्लाह सालेह के लिए वफ़ादार सैनिकों और उनके ख़िलाफ़ उठ खड़े हुए क़बायली गुट के बीच बढ़ती हिंसा के संकेत के रूप में देखा जा रहा है.

सना में दो दिन पहले युद्ध विराम टूटने के बाद से दर्जनों लोग मारे जा चुके है और कई लोग घायल भी हुए हैं.इसके बाद से कई लोग शहर से भाग चुके हैं.

लड़ाई सरकारी बलों और शक्तिशाली क़बायली समूह हाशेद के बीच हो रही है. ताज़ा ख़बरों से संकेत मिल रहे हैं कि लड़ाई नए चरण में प्रवेश कर रही है.हज़ारों क़बायली उत्तर से शहर में घुसने की कोशिश कर रहे हैं.

100 लड़ाके सना में घुसे

शहर के प्रवेश द्वार की कड़ी सुरक्षा के लिए राष्ट्रपति सालेह के लिए वफ़ादार सैनिक तैयार हैं लेकिन तब भी कम से कम 100 लड़ाके शहर के अंदर घुसने में कामयाब हो गए हैं.

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि उनके पास भारी तोप ख़ाना है.हाँलाकि इस बात के कोई संकेत नहीं हैं कि राष्ट्रपति सालेह इस्तीफ़ा देने के लिए ज़बरदस्त घरेलू और अंतरराष्ट्रीय दबाव को मानने के लिए तैयार हैं.

संबंधित समाचार