नब्बे बीवियों का शौहर, 100 पर निशाना

नाईजेरिया

पहले ही 90 बार शादी कर चुके नाइजीरिया के बेलो मसाबा कम से कम 10 और शादियाँ करना चाहते हैं.

सत्तासी साल के बेलो मसाबा का कहना है कि उन्होंने ये शादियाँ भगवान के निर्देश पर की हैं.

नाइजीरिया के संविधान में बहु-विवाह पर रोक नहीं है. न ही वहाँ पत्नियों की संख्या को लेकर किसी तरह की पाबंदी है.

मध्य नाइजीरिया के शहर बिदा में रहने वाले बेलो मसाबा ने बीबीसी संवाददाता जोना फ़िशर से कहा कि पहले उन्हें औरतों से डर लगता था. उन्हें लगता था कि वो दो से ज़्यादा शादियाँ नहीं कर पाएंगे लेकिन ख़ुदा ने इसे मुमकिन बनाया.

"मैं औरतों के पीछे नहीं जाता वो ख़ुद ही मेरे पास आती हैं. जब वो आती हैं तो ख़ुदा कहता है कि ये तुम्हारी पत्नी है और मैं उससे शादी कर लेता हूँ."

बेलो मसाबा का ये भी मानना है कि अल्लाह दवाओं के इस्तेमाल को पसंद नहीं करता है. शायद यही वजह कि उनकी 200 औलादों में से 55 मर गए.

बीवी नम्बर तीन, पाँच और चौबीस शायद उनकी चहेती हैं हो सकता है इसीलिए भी क्योंकि वो उनकी ख़ूब तारीफ़े करती हैं.

वो कहती हैं कि मर्दों को कई शादियाँ करनी चाहिएं ताकि उन्हें ख़ुदा का ईनाम हासिल हो सके.

बेलो मसाबा की बीवियों का दावा है कि उनके बीच किसी तरह की ईर्ष्या की कोई भावना नहीं है.

मालूम नहीं उनकी दूसरी बीवियाँ क्या कहती हों, क्योंकि बेलो मसाबा के साथ सबकुछ 'अच्छा-अच्छा' ही नहीं हुआ है. उनकी 11 शादियों में मामला तलाक़ तक पहुँचा है.

मुस्कुराते हुए वो कहते हैं वो मेरा कहा नहीं मानती थीं इसीलिए मैने उन्हें वापस भेज दिया.

संबंधित समाचार