चीन के प्रधानमंत्री की ब्रिटेन यात्रा

जेरेमी हंट और वेन जियाबाओ इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption चीन के प्रधानमंत्री की ब्रिटेन यात्रा के दौरान कई समझौतों की आशा

चीन के प्रधानमंत्री वेन जियाबाओ ने ब्रिटेन की तीन दिवसीय यात्रा की शुरुआत करते हुए ब्रिटेन को ‘प्रचुर अवसर’ प्रदान करने की पेशकश की है.

श्री वेन बर्मिंघम में एमजी कार का संयंत्र देखने गए जिसमें चीन का भारी निवेश है.

उनकी इस यात्रा के दौरान कई व्यापारिक समझौतों पर हस्ताक्षर होने की आशा है.

श्री वेन ब्रिटेन के संस्कृति मंत्री जेरेमी हंट के साथ शेक्सपीयर की जन्मस्थली स्ट्रैडफ़र्ड अपॉन एवन भी गए जहां उन्होने शेक्सपीयर के एक नाटक का मंचन देखा.

जेरेमी हंट ने कहा, “हम चीन के साथ एक व्यापक रिश्ता क़ायम करना चाहते हैं जिसमें राजनीतिक, आर्थिक और सामाजिक सम्वाद शामिल हो”.

“चीन एक बहुत ही महत्वपूर्ण आर्थिक शक्ति है और ब्रिटेन में उसका भारी निवेश भी है".

"लेकिन उनकी ये यात्रा केवल व्यापार के बारे में नहीं है बल्कि व्यापक सांस्कृतिक संबंध के बारे में भी है जो हमारी समझ से एक दूसरे को समझने का एक बेहतर तरीक़ा है”.

समझौते

चीन के प्रधानमंत्री बरमिंघम में एमजी6 मैगनेट के उद्घाटन में शामिल हुए जिसका डिज़ाइन ब्रिटेन में बनाया गया है लेकिन चीन में बने उसके हिस्सों को यहां जोड़कर तैयार किया गया.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption चीन के प्रधानमंत्री एमजी 6 कार मॉडल के उद्घाटन में शामिल हुए

इस फ़ैक्टरी में कभी एमजी रोवर कारें बनती थीं लेकिन अब इसका मालिक शंघाई ऑटोमोटिव इंडस्ट्री कॉरपोरेशन है.

चीन दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गई है और कई यूरोपीय कंपनियां उसके निवेश के लिए आतुर हैं.

सोमवार को वेन जियाबाओ वार्षिक ब्रिटेन-चीन सामरिक शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे.

जर्मनी के लिए रवाना होने से पहले वो उप प्रधानमंत्री निक क्लेग और ब्रिटेन के व्यापारिक नेताओं से भी बातचीत करेंगे.

यूरो को मदद

चीन के प्रधानमंत्री हंगरी की यात्रा करके शनिवार की रात बर्मिंघम हवाई अड्डे पहुंचे थे.

जब उनसे यूरोप में चल रहे ऋण संकट के बारे में पूछा गया तो उन्होने कहा, “चीन बराबर यूरोप और यूरो मुद्रा को समर्थन देता रहेगा”.

उन्होने विश्वास व्यक्त किया कि यूरो क्षेत्र वर्तमान संकट से उबर आएगा.

चीन के पास विदेशी मुद्रा का सबसे बड़ा भंडार है.

मानवाधिकार

हालांकि ब्रिटेन की यात्रा के दौरान मुख्य ध्यान आर्थिक, व्यापारिक और राजनीतिक रिश्तों पर है लेकिन ब्रिटेन चीन के मानवाधिकार रेकार्ड को लेकर चिंतित है और वेन जियाबाओं के साथ इस विषय की चर्चा अवश्य होगी.

पिछले सप्ताह चीन के एक जाने माने कलाकार आई वेइवेइ को रिहा कर दिया गया और शनिवार को एक और चीनी असंतुष्ट हू जिया भी जेल से रिहा कर दिए गए.

लेकिन जब श्री वेन बर्मिंघम में एमजी कार फ़ैक्टरी पहुंचे तो तिब्बत की आज़ादी के लिए संघर्ष कर रहे एक संगठन ने फ़ैक्टरी के बाहर विरोध प्रदर्शन किया.

संबंधित समाचार