इतिहास के पन्नों से

अर्जेंटीना
Image caption पूर्व कैबरे डांसर अर्जेन्टीना की पहली महिला राष्ट्रपति बनी.

इतिहास के पन्नों को पलटा जाए तो 29 जून के ही दिन 1974 में अर्जेन्टीना में पहली बार किसी महिला राष्ट्रपति ने पदभार संभाला था. आज ही के दिन 1960 में बीबीसी ने अपना टेलीविज़न सेंटर शुरु किया था.

1974: अर्जेन्टीना में पहली महिला राष्ट्रपति

आज ही के दिन मारिया एस्तेला ईसाबेल मार्टिनेज़ दी पेरोन ने अर्जेन्टीना की अंतरिम राष्ट्रपति के तौर पर शपथ ली थी.

उनके पति और अर्जेन्टीना के तत्कालीन राष्ट्रपति युआन पेरोन ने अपनी ज़िम्मेदारी इसलिए त्याग दी थी क्योंकि डाक्टरों ने कहा था कि उन्हें चौबीसों घंटे चिकित्सकीय निगरानी और आराम की ज़रुरत है.

पूर्व कैबरे डांसर मरिया पेरोन आज ही के दिन इस दक्षिण अमरीकी राष्ट्र की पहली महिला राष्ट्रपति बनीं और अपने देश के इतिहास में 43 वर्ष की आयु में सबसे कम उम्र की राष्ट्रपति भी.

उनके शपथग्रहण के दो हफ्ते पहले से ही उनके पति युआन पेरोन सार्वजिन तौर पर कहीं नहीं देखे गए क्योंकि उनकी तबियत काफ़ी ख़राब बताई गई थी.

माना जाता है कि अर्जेन्टीना के प्रमुख शक्तिशाली गुटों जिनमे फ़ौज और कर्मचारी संगठन ने मारिया का समर्थन किया था.

1960: बीबीसी का नया टीवी सेंटर

बीबीसी के अध्यक्ष ने आज ही के दिन घोषणा की थी कि संस्था का नया टेलीविज़न केंद्र टेलीविज़न जगत की दुनिया का 'हॉलीवुड' होगा. .

जेराल्ड बीडल का कहना था कि 1.2 करोड़ पाउंड की लागत से तैयार किया गया टीवी सेंटर ब्रितानी व्यापार और गौरव के लिए 'बेहद अहम' होगा.

पश्चिमी लंदन में स्थित इस इमारत में सात टेलीविज़न स्टूडियो थे और सबसे बड़े स्टूडियो का क्षेत्रफल 11,000 वर्ग फ़ुट था.

शेफ़र्ड बुश इलाके में मौजूद बीबीसी के इस दफ़्तर के निर्माण में छह वर्ष लगे और इस परिसर में कई दफ़्तर, रेस्टॉरेंट वगैरह बनाए गए.

बीबीसी के अध्यक्ष ने इस बात पर भी ज़ोर दिया था कि इस नए दफ़्तर का निर्माण पूरा हो जाने के बाद पूरे ब्रिटेन में दिखाए जा रहे सस्ते अमरीकी प्रोग्रामों पर भी रोक लग सकेगी.

संबंधित समाचार