इतिहास के पन्नों से

लिंडन बी जॉन्सन
Image caption लिंडन बी जॉन्सन ने पूर्व राष्ट्रपति जॉन केनेडी की हत्या के बाद देश की बागड़ोर संभाली थी.

इतिहास के पन्नों को पलटा जाए तो आज ही के दिन 1964 में अमरीका में नागरिक हितों के अधिकार वाले क़ानून पर हस्ताक्षर हुए थे जबकि 2005 में आज ही के दिन दुनिया भर के नामचीन कलाकारों ने कई जगहों पर कार्यक्रम आयोजित करके अफ़्रीक़ा में फैली ग़रीबी से निपटने के लिए संदेश दिए थे.

1964: अमरीका में नागरिक हितों के अधिकार वाला क़ानून पारित हुआ

1964 में अमरीकी इतिहास के सबसे महत्त्वपूर्ण विधेयकों में से एक नागरिक हितों की रक्षा करने वाला प्रस्ताव क़ानून में तब्दील हुआ था.

अमरीकी राष्ट्रपति लिंडन बी जॉन्सन ने इस विधेयक पर हस्ताक्षर किए जिससे देश में मताधिकार, शिक्षा, सार्वजनिक रिहाईश जैसे अधिकार जाति, धर्म और राष्ट्रीयता के आधार के बिना सबको प्राप्त हुए.

जब से पूर्व राष्ट्रपति जॉन केनेडी ने इसके पिछले वर्ष यानि 1963 में इस विधेयक को प्रस्तावित किया था तभी से ये विवादों के घेरे में रहा था.

अमरीका की निचली संसद हॉउस ऑफ रेप्रेसेन्टटेतिव्स में चली पांच घंटों की लंबी बहस के बाद इसे बहुमत से पास किया गया था और इस तरह एक नया क़ानून बना.

क़ानून पर हस्ताक्षर करने के बाद अमरीकी राष्ट्रपति लिंडन बी जॉन्सन ने नागरिक अधिकारों के हित की बात करने वाले नेता मार्टिन लूथर किंग से हाथ मिलाया.

टीवी पर राष्ट्र को किए गए एक संबोधन में राष्ट्रपति जॉन्सन ने अमरीकी नागरिकों से कहा था, "इस क़ानून से अमरीका में नाइंसाफ़ी समाप्त हो जाएगी."

2005 अफ़्रीका में ग़रीबी के प्रति जागरूकता लाने के लिए लाईव 8 कॉन्सर्ट हुए

Image caption बॉब गेल्डाफ ने लंदन में कार्यक्रम प्रस्तुत किया.

आज ही के दिन 2005 में दुनिया के माने जाने पॉप कलाकारों ने दुनिया भर के दस शहरों में आयोजित कार्यक्रमों में हिस्सा लिया था.

इन कार्यक्रमों के ज़रिए उनका उद्देश्य दुनिया के राजनेताओं को अफ़्रीक़ा में फैली ग़रीबी के प्रति जागरूक कराना था.

लंदन, फिलाडेल्फिया, पैरिस, बर्लिन, रोम, मास्को और जोहानेसबर्ग में हुए इन रंगारंग कार्यक्रमों में हजारों-लाखों लोग शरीक़ हुए थे.

इसेक एक हफ़्ते बाद वैश्विक ग़रीबी और जलवायु परिवर्तन पर आयोजित होने वाली जी-8 देशों के नेताओं की बैठक के पहले दुनिया भर में कई करोड़ लोगों ने इस आयोजन को टीवी पर देखा था.

लंदन में कार्यक्रम पेश करने वालों में मैडोना, सर एल्टन जॉन और स्टिंग जैसे नामचीन कलाकार शामिल थे्

इस वैश्विक आयोजन में भाग लेने वाले लगभग हर गायक ने स्टेज पर से अपने हिस्सा लेने की वजह भी बताई.

संबंधित समाचार