इतिहास के पन्नों से...

इतिहास के पन्ने पलटें तो आठ जुलाई के दिन सिर से जुड़ी जुड़वां ईरानी बहनों का ऑपरेशन हुआ था. हालांकि वो सफ़ल नहीं हो पाया. इसी दिन ब्रिटेन में ट्रेन से लाखों पाउंड लूटने वाला व्यक्ति जेल से फ़रार हो गया था.

2003: सिर से जुड़ी जुड़वां बहनों का ऑपरेशन

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption इन बहनों ने पहले भी ऑपरेशन करवाने की इच्छा जताई थी लेकिन डॉक्टरों ने इसमें जोखिम होने की वजह से मना कर दिया था.

ईरान की ये दो बहनें, लालेह और लादन बिजानी, जन्म से ही अपने सिर से एक दूसरे से जुड़ी हुईं थी.

उन्नतीस साल की उम्र में जब इन्हें अलग करने के लिए ऑपरेशन किया गया लेकिन वो सफ़ल नहीं हो पाया और दोनों की मौत हो गई.

ये ऑपरेशन तीन दिन तक चला. डॉक्टरों ने क़रीब 21 घंटे लगाकर दोनों बहनों के दिमाग को एक-एक मिलीमीटर काटा.

लेकिन जैसे ही दोनों के दिमाग़ को अलग करने की कोशिश की गई, उनके शरीर से भारी मात्रा में ख़ून रिसने लगा.

आख़िरकार दोनों बहनें अलग तो हो गईं लेकिन एक घंटे बाद ही लादन का रक्तचाप घटने लगा.

अठ्ठाईस डॉक्टरों और 100 मेडिकल सहयोगियों की कोशिशें भी लादन को नहीं बचा सकीं.

फिर लालेह का रक्तचाप भी घटने लगा और डेढ़ घंटे बाद उसकी मौत हो गई.

दोनों बहनों को ऑपरेशन से पहले ही बता दिया गया था कि इसके बाद दोनों में से एक की मौत हो सकती है.

बिजानी बहनें कॉलेज में का़नून की पढ़ाई कर स्नातक की डिग्री हासिल कर चुकी थीं और पूरे ईरान में अपनी हिम्मत और जज़्बे के लिए मशहूर थीं.

1965: लाखों पाउंड चुराने वाला फ़रार

Image caption रोनाल्ड बिग्स को आखिरकार वर्ष 2001 में पकड़ लिया गया.

ब्रिटेन में 1963 में एक ट्रेन से क़रीब 20 लाख पाउंड चुराने वाले गैंग का एक चोर, रोनल्ड बिग्स जेल से फ़रार हो गया.

आठ जुलाई 1965 को तीन अन्य क़ैदियों के साथ, बिग्स ने जेल की 30 फीट ऊंची दीवार फांदी.

दीवार के दूसरी ओर एक सीढ़ी लगाई गई थी, जिससे सभी कै़दी उतरे और फिर उनका इंतज़ार कर रही तीन कारों में बैठकर फरार हो गए.

बिग्स और उसके साथियों ने इंग्लैंड और स्कॉटलैंड के बीच चलने वाली पोस्ट ऑफिस ट्रेन में डकैती की थी.

एक सौ पच्चीस साल से चल रही इस ट्रेन को अचानक एक स्टेशन पर लाल बत्ती दिखा कर रोका गया और लुटेरे 20 लाख पाउंड लेकर फरार हो गए.

ये ब्रिटेन में किसी ट्रेन में होने वाली अब तक की सबसे बड़ी डकैती मानी जाती है.

संबंधित समाचार