'सरकार विरोधी प्रदर्शनों में शरीक है अमरीका'

  • 8 जुलाई 2011
रॉबर्ट फ़ोर्ड इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption अमरीकी राजदूत रॉबर्ट फ़ोर्ड पहले सीरिया की हुकुमत के साथ उन स्थलों पर जा चुके हैं जहाँ प्रदर्शनकारियों ने सुरक्षाबलों पर हमले किए थे.

सीरिया ने अमरीका पर सरकार विरोधी प्रदर्शन में शरीक होने का आरोप लगाया है.

सीरिया के विदेश मंत्रालय ने गुरूवार को अमरीकी राजदूत की हमा शहर की अनाधिकारिक यात्रा पर नाराज़गी जताई है.

विदेश मंत्रालय ने कहा है कि राजदूत की यात्रा से देश की सुरक्षा और स्थायित्व को पैदा हुए ख़तरे को और बढ़ावा मिलेगा.

राजदूत रॉबर्ट फ़ोर्ड ने हमा जाने के लिए सीरिया से आधिकारिक तौर पर अनुमति नहीं ली थी लेकिन दूतावास ने अधिकारियों को सूचित कर दिया था कि एक अमरीकी दल वहाँ जा रहा है.

वाशिंगटन में बीबीसी संवाददाता किम घट्टास के अनुसार अमरीकी विदेश मंत्रालय ने कहा है कि रॉबर्ट फ़ोर्ड की यात्रा सीरिया के लोगों के समर्थन में है और राजदूत शुक्रवार को होने वाले प्रदर्शनों को देखने के लिए हमा में मौजूद रहेंगे.

मंत्रालय की प्रवक्ता विक्टोरिया नूलैंड ने कहा है कि राजदूत की हमा में उपस्थिति इस बात का सबूत है कि अमरीका सीरिया के नागिरकों का समर्थन करता है जो शांतिपूर्ण ढ़ंग से एक प्रजातांत्रिक भविष्य की मांग कर रहे हैं.

रॉबर्ट फ़ोर्ड प्रदर्शनकारियों के नेताओं से मिलकर उनकी राय जानने की कोशिश करेंगे.

अमरीकी विदेश मंत्रालय के अनुसार हमा पहुँचने पर नागरिकों ने राजदूत का स्वागत किया और उन्होंने एक अस्पताल का भी दौरा किया है.

गढ़

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption हमा में असद के समर्थन में भी प्रदर्शन हुए हैं.

हमा राष्ट्रपति बशर अल असद की हुकु़मत के ख़िलाफ़ पिछले चार महीने से जारी सरकार विरोधी प्रदर्शनों का गढ़ रहा है.

सुरक्षा बलों के हमले के डर से पिछले कुछ घंटों के दौरान सैकड़ों लोग शहर छोड़कर भाग गए हैं.

शहर के बाहर टैंक तैनात हैं और पिछले कुछ दिनों के भीतर कम से कम 22 लोग गोलियों का शिकार हुए हैं.

सीरिया में जारी सरकार की दमनकारी कार्रवाईयों के ख़िलाफ़ कड़ी प्रतिक्रिया न देने के लिए बराक ओबामा सरकार की निंदा हुई है.

कुछ हफ़्ते पहले अमरीका ने कहा था कि राष्ट्रपति असद के पास अब बहुत कम वक़्त बचा है लेकिन अमरीका ने उनसे सीधे गद्दी छोड़ने को नहीं कहा है.

संबंधित समाचार