मर्डोक की कंपनी पर और आरोप

  • 12 जुलाई 2011
गॉर्डन ब्राउन और सारा ब्राउन इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption ताज़ा जानकारियों के बाद ब्राउन के प्रवक्ता ने कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री 'क्षुब्ध' हैं.

ब्रिटेन में 'न्यूज़ इंटरनेशनल कॉरपोरेशन' के मालिक रुपर्ट मर्डोक पर दबाव लगातार बढ़ता जा रहा है.

रविवार को आख़िरी बार छपे इस कंपनी के साप्ताहिक समाचार पत्र 'न्यूज़ ऑफ़ द वर्ल्ड' पर अब पुलिस अधिकारियों को पैसे देकर ब्रितानी राजघराने के बारे निजी जानकारियां जुटाने का आरोप लग रहा है.

इसके अलावा इसी समूह के एक अन्य अख़बार 'द संडे टाइम्स' पर ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री गॉर्डन ब्राउन की व्यक्तिगत वित्तीय जानकारी ग़ैरक़ानूनी तरीके से एकत्रित करने का आरोप भी लगा है.

'न्यजू़ इंटरनेशनल' के 'द सन' समाचार पत्र पर गॉर्डन ब्राउन के पुत्र की गोपनीय मेडिकल रिपोर्ट को भी ग़ैरक़ानूनी ढंग से हासिल करने का इल्ज़ाम भी लगा है.

'न्यूज़ इंटरनेशनल' ने कहा है कि वो इन दावों की जांच करेंगे.

'क्षुब्ध हैं ब्राउन'

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption न्यूज़ इंटरनेशनल ने कहा है कि वे इन आरोपों की जांच करेंगे.

पूर्व प्रधानमंत्री गॉर्डन ब्राउन की प्रवक्ता ने कहा है कि वे इन ख़बरों के बाद से 'क्षुब्ध' हैं. मर्डोक के समूह के अख़बार ' द संडे टाइम्स' पर आरोप है कि जब ब्राउन चांसलर थे तब अख़बार ने उनकी 'निजी जानकारी' पर निशाना साधा था.

दस्तावेज़ों और फ़ोन की रिकॉर्डिंग से संकेत मिलता है कि ब्राउन की वित्तीय और प्रॉपर्टी की जानकारी इकत्रित की गई थी.

ब्राउन परिवार को ये भी संदेह है कि उनके पुत्र फ़्रेज़र की बीमारी के बारे में 'द सन' अख़बार ने साल 2006 में जो ख़बर छापी थी, उसकी जानकारी भी ऐसा ही कोई हथकंडा अपना कर हासिल की गई होगी.

गॉर्डन ब्राउन की एक प्रवक्ता ने कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री को इस सारे विषय की जानकारी दे दी गई है.

उधर 'न्यूज़ इंटरनेशन' ने एक बयान में कहा, "हमने गॉर्डन ब्राउन के बारे में लगाए गए आरोपों का देखा है. इन आरोपों की पूरी पड़ताल करने के लिए हम चाहते हैं कि सारी जानकारी हमें मुहैया करवाई जाए."

ब्रिटेन के संस्कृति मंत्री जेरेमी हंट ने 'हाउस ऑफ़ कॉमंस' को बताया है कि न्यायिक जांच में फ़ोन हैकिंग से जुड़े सभी विषयों पर पड़ताल की जाएगी.

ग़ौरतलब है कि ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन पहले ही फ़ोन-हैकिंग के सारे मामले की जांच एक जज को सौंपने की बात कह चुके हैं.

संबंधित समाचार