रेबेका ब्रुक्स ने दिया इस्तीफ़ा

रुपर्ट मर्डोक के साथ रेबेका इमेज कॉपीरइट PA Ian nicholson
Image caption रुपर्ट मर्डोक ने विवाद के बाद अपना अख़बार बंद कर दिया था लेकिन रेबेका का बचाव किया था

रुपर्ट मर्डोक की कंपनी न्यूज़ इंटरनेशनल की प्रमुख कार्यकारी रेबेका ब्रुक्स ने इस्तीफ़ा दे दिया है.

फोन हैकिंग मामले में रेबेका पर ज़बर्दस्त दबाव था क्योंकि फोन हैकिंग की घटना के दौरान रेबेका ही न्यूज़ ऑफ द वर्ल्ड की संपादक थीं.

उधर न्यूज़ इंटरनेशनल के ख़िलाफ़ अमरीकी खुफ़िया एजेंसी एफ़बीआई ने जांच भी शुरु कर दी है.

इतना ही नहीं ब्रितानी संसद ने मर्डोक से संसद की मीडिया मामलों की समिति के समक्ष पेश होने को कहा है.जिसके लिए उन्होंने मंज़ूरी भी दे दी है.

लेकिन इस बीच वे ये भी कह रहे हैं कि उनकी कंपनी ने इस मामले को भलीभांति संभाला है.

उनका दावा है कि जल्दी ही उनकी कंपनी इससे उबर जाएगी.

उल्लेखनीय है कि न्यूज़ कॉर्पोरेशन के पत्रकारों पर बहुत से लोगों के फ़ोन हैक करने और उनकी निजता यानी प्राइवेसी भंग करने और कई लोगों के फ़ोन के रिकॉर्ड हासिल करने की कोशिश के आरोप हैं.

इन आरोपों की वजह से रुपर्ट मर्डोक को पिछले रविवार को ब्रिटेन के सबसे पुराने अख़बार 'न्यूज़ ऑफ़ द वर्ल्ड' को बंद करने का फ़ैसला करना पड़ा था.

सऊदी शहज़ादे का सहारा

अपने ही एक अख़बार वॉल स्ट्रीट जर्नल को दिए एक इंटरव्यू में रुपर्ट मर्डोक ने कहा है कि उनकी कंपनी ने 'मामले को ठीक ढंग से संभाला है' हालांकि उन्होंने कुछ 'छोटी ग़लतियों' का ज़िक्र किया है.

न्यूज़ कॉर्पोरेशन के बारे में मीडिया में आ रहीं नकारात्मक ख़बरों के बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, "बस खिन्नता हो रही है.मैं इससे उबर जाउँगा लेकिन मैं उकता गया हूँ."

उधर न्यूज़ कॉर्पोरेशन के सबसे बड़े शेयर होल्डर सऊदी अरब के शहज़ादे अलवालीद बिन तलाल ने स्पष्ट किया है कि वे अपने शेयर को नहीं बेच रहे हैं.

वे सऊदी अरब के शाह के भतीजे हैं.

हालांकि वो ये भी मानते हैं कि न्यूज़ कॉर्पोरेशन की मुख्य कार्यकारी अधिकारी रेबेका ब्रुक्स को अपना पद छोड़ देना चाहिए.

बीबीसी से हुई बातचीत में उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि उन्हें जाना होगा. मैं शर्त बद सकता हूँ कि उन्हें जाना होगा."

एफ़बीआई जाँच

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption पीटर किंग ने ही इस मामले की जाँच की मांग की थी

अमरीका में संघीय जांच एजेंसी एफ़बीआई रुपर्ट मर्डोक की मीडिया कंपनी न्यूज़ कॉरपोरेशन के ख़िलाफ़ जांच शुरू कर दी है.

न्यूज़ कॉरपोरेशन पर ये भी आरोप है कि अख़बार 'न्यूज़ ऑफ़ द वर्ल्ड' ने 9/11 के हमलों के पीड़ितों के फ़ोन रिकॉर्ड हासिल करने की कोशिश की थी.

ये आपराधिक जांच अमरीका में कई सीनेटरों की मांग के बाद शुरू हुई है.

अमरीकी कांग्रेस के सदस्य रिपब्लिकन पार्टी के पीटर किंग ने एफ़बीआई के निदेशक रॉबर्ट म्यूलर को ख़त लिखकर उन आरोपों की जांच किए जाने की मांग की थी जिनमें 'न्यूज़ ऑफ़ द वर्ल्ड' पर 9/11 हमलों के पीड़ितों के फ़ोन रिकॉर्ड हासिल करने की कोशिश करने की बात सामने आई थी.

अमरीका के न्याय विभाग ने इस मुद्दे पर टिप्पणी करने से इंकार किया है.

संबंधित समाचार