हज पर सबसे बड़ी प्रदर्शनी

मक्का
Image caption माना जाता है कि हर वयस्क मुसलमान हज जाना चाहता है

ब्रिट्रेन के संग्रहालय में अगले साल की शुरूआत में हज से जुड़ी दुनिया की सबसे बड़ी प्रदर्शनी लगेगी.

दुनिया भर में इसी समय में लोग हज यात्रा पर निकलते हैं और इसी को देखते हुए ये समय तय किया गया है.

पांडुलिपियाँ, डायरी, ऐतिहासिक तस्वीरें और समसामयिक कला इस प्रदर्शनी का हिस्सा बनेंगे.

संग्राहलय के निदेशक नील मैकग्रीगर का कहना है कि हज एक सांस्कृतिक परंपरा है और इसे बेहतर तरीके़ से समझने की ज़रूरत है.

हज यात्रा

ऐसा माना जाता है कि अगर संभव हो तो हर वयस्क मुसलमान अपनी ज़िंदगी में हज यात्रा पर ज़रूर जाना चाहता है. कई मुसलमान बरसों तक इस यात्रा पर जाने के लिए पैसा बचाते हैं.

इस प्रदर्शनी में हज यात्री के सफ़र को दर्शाया जाएगा ख़ासतौर पर इससे संबंधित रीति-रिवाज और मक्का तक पंहुचने की पूरी यात्रा से जुड़े तमाम पहलु भी दर्शाए जाएंगे.

संग्रहालय के निदेशक ने हज को मुसलमानों के लिए एक बेहद पाक और रूहानी लम्हा होता है.

इस प्रदर्शनी में समसामयिक सऊदी कलाकार अहमद मातेर और शादिया अलेम जैसे लोगों का काम भी पेश किया जाएगा.

निदेशक ने कहा कि हज पर जा रहे लोगों के साथ बेहद ख़ूबसूरत चीजें भी भिजवाई जाती थीं और उन चीज़ो को भी प्रदर्शनी में जगह दी जाएगी.

संबंधित समाचार