अमरीकी ऋण सीमा बढ़ने की आशा

हैरी रीड इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption अमरीका के राष्ट्रपति ने सेनेट में डैमोक्रेटिक सांसदों के नेता हैरी रीड को बातचीत के लिए बुलाया

अमरीका के डैमोक्रेट और रिपब्लिकन सांसदों ने ऋण विधेयक पर सहमति होने की संभावना व्यक्त की है.

अमरीकी संसद के ऊपरी सदन सेनेट के रिपब्लिकन नेता मिच मैक्कॉनल ने कहा कि बातचीत जारी है और उसमें 'गंभीरता नज़र आ रही है'.

सेनेट के डैमोक्रेट सांसद रिचर्ड डर्बिन ने 'एक सकारात्मक भावना' का ज़िक्र किया.

इस मामले पर इतनी गहन चिंता व्याप्त है कि अफ़ग़ानिस्तान में तैनात सैनिकों ने एडमिरल माइक मलन से पूछा कि क्या उन्हे अगले महीने वेतन मिल पाएगा.

दक्षिणी अफ़ग़ानिस्तान के दौरे पर गए एडमिरल मलन ने कहा कि वो इस बात का जवाब नहीं दे सकते.

अमरीका को दो अगस्त तक 143 खरब डॉलर की ऋण सीमा बढ़ानी है नहीं तो नकदी की उपलब्धता का संकट पैदा हो जाएगा.

अभी तक डैमोक्रेट और रिपब्लिकन सांसदों ने एक दूसरे के प्रस्तावों को ठुकरा दिया है.

सेनेट में डैमोक्रेटिक सांसदों के नेता हैरी रीड का प्रस्ताव है कि घाटे में से 22 खरब डॉलर की कटौती की जाए और ऋण सीमा 27 खरब डॉलर कर दी जाए जिससे 2012 में होने वाले राष्ट्रपति पद के चुनाव तक ये मामला फिर सिर न उठाए.

उन्होने कहा, "राष्ट्रपति निवास व्हाइट हाउस में बातचीत चल रही है जिससे देश क़र्ज़ अदायगी से न चूके. अभी कई पक्षों पर अंतिम निर्णय करना बाक़ी है और इसमें समय लगेगा".

इस ऋण विधेयक पर रविवार की सुबह मतदान होना था जिसे अब शाम तक के लिए टाल दिया गया है.

वेतन की चिंता

दक्षिणी अफ़ग़ानिस्तान गए एडमिरल माइक मलन सैनिकों से ये जानना चाहते थे कि वहां चल रही लड़ाई में उन्हे किसा तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है.

लेकिन एक के बाद एक सैनिक ने यही पूछा, "अगर सरकार अपने क़र्ज़ अदा करने में विफल रहती है तो भी क्या हमें तनख़्वाह मिलेगी".

पहले तो उन्होने कहा कि उनके पास इसका जवाब नहीं है लेकिन फिर बाद में उन्होने कहा कि वो जानते हैं कि उनके परिवार वाले महीने के महीने आने वाले वेतन पर निर्भर करते हैं और उन्हे भी अपनी नौकरी करते रहना चाहिए.

अमरीकी संसद के निचले सदन में रिपब्लिकन पार्टी का बहुमत है और शनिवार को जब ये विधेयक सामने आया तो इसे ठुकरा दिया गया. इसके पक्ष में 173 और ख़िलाफ़ 246 मत पड़े.

इसके बाद राष्ट्रपति ने हैरी रीड और डैमोक्रेटिक सांसदों की नेता नेन्सी पलोसी को बातचीत के लिए बुलाया.

सेनेट में रिपब्लिकन सांसदों के नेता मिच मैक्कॉनल ने डैमोक्रेट सांसदों से कहा कि वो ये नाटक बंद करें जिससे राष्ट्रपति से बातचीत हो सके.

उन्होने कहा, "हम अमरीका की 30 करोड़ 70 लाख आबादी में से केवल एक व्यक्ति से बात कर रहे हैं जो इस विधेयक पर हस्ताक्षर करके इसे क़ानून का रूप दे सकता है".

बीबीसी के वॉशिंगटन स्थित संवाददाता पॉल एडम्स का कहना है कि कोई सहमति न बन पाने की स्थिति से निपटने के लिए वित्त विभाग एक आपात योजना तैयार कर रहा है.

वित्त विभाग का अनुमान है कि अगर मंगलवार तक ऋण सीमा न बढ़ाई गई तो सरकार अपने बिल अदा करने के लिए धन उधार नहीं ले पाएगी.

विशेषज्ञों का कहना है कि इसके बाद सरकार के पास कोई एक सप्ताह तक के लिए नक़दी है.

रिपब्लिकन योजना

गत शुक्रवार को संसद के निचले सदन ने एक योजना को पारित किया था जिसके पक्ष में 218 और विपक्ष में 210 मत पड़े.

इस योजना को सदन के अध्यक्ष जॉन बोनर ने तैयार किया था जिसमें सार्वजनिक ख़र्च में 900 अरब डॉलर की कटौती और ऋण की सीमा को 900 अरब डॉलर बढ़ाने का प्रस्ताव था.

लेकिन इस योजना में अगले साल के मध्य में फिर मतदान कराना पड़ता जो राष्ट्रपति पद के चुनाव अभियान के बीच बाधक बनता.

सदन द्वारा विधेयक पास होने के कुछ ही देर बाद सेनेट ने इस योजना को ख़ारिज कर दिया क्योंकि वहां डैमोक्रेट्स का बहुमत है.

राष्ट्रपति ओबामा ने कहा कि इस समस्या का हल दोनों दलों के समर्थन से होना चाहिए.

उन्होने कहा, "इस समस्या को सुलझाने के कई तरीक़े हैं".

"संसद को एक साझा योजना बनानी चाहिए जिसका संसद के दोनों सदनों में दोनों पार्टियां समर्थन करें. और ये योजना तैयार हो जानी चाहिए जिससे मैं मंगलवार तक उसपर हस्ताक्षर कर सकूं".

विश्लेषकों का कहना है कि अंतिम घड़ी में एक समझौता हो जाएगा लेकिन दोनों सदनों में मतदान कांटे का रहेगा.

संबंधित समाचार