नैटो करेगा हमले की जांच

अफ़ग़ानिस्तान सेना इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption अफ़ग़ानिस्तान में इस साल के पहले छह महीनों में 1400 से ज्यादा लोग मारे जा चुके है

अफ़ग़ानिस्तान के दक्षिणी प्रांत हेलमंद में नैटो सेना का कहना है कि वह उस घटना की जांच कर रहा है जिसमें उसके हवाई हमलें में आम लोगों की मौत हुई थी.

अफ़ग़ान और नैटो सेनाओं का कहना है कि हेलमंद प्रांत के नाद अली ज़िले में विद्रोहियों ने उनपर हमला कर दिया था जिसकी जवाबी कार्रवाई के लिए हवाई हमले का इस्तेमाल किया था.

उनका कहना था कि विद्रोहियों ने उन पर रॉकेट से हथगोले फेंकें और गोलियां चलाई.

इस कार्रवाई में जहां विद्रोहियों को मार गिराया गया वहीं आम लोग भी इसकी चपेट में आ गए.

स्थानीय सूत्रों का कहना है कि इस हमले में आठ से ज़्यादा लोग मारे गए थे जिसमें महिलाएं और बच्चे शामिल थे.

अफ़ग़ानिस्तान में इस मामले की जांच अंतरराष्ट्रीय मिशन या आईएसएफ़ कर रहा है.

अफ़ग़ानिस्तान में आम नागरिकों की मौत लोगों के बीच गुस्से का एक अहम कारण है. इनमें से ज़्यातातर लोग तालिबान के हमले में मारे जाते है.

लेकिन विदेशी सेनाओं के हाथों मारे एग आमनागरिकों से वहां की आम जनता में ख़ासा गुस्सा है.

अफ़ग़ानिस्तान में इस साल के पहले छह महीनों अब तक 1400 से ज्यादा लोग मारे जा चुके है

संबंधित समाचार