दंगों के दौरान घायल व्यक्ति की मौत

  • 9 अगस्त 2011
लंदन में दंगे इमेज कॉपीरइट BBC World Service

लंदन दंगों के दौरान घायल हुए एक व्यक्ति की मौत हो गई है. सोमवार को दक्षिणी लंदन में इस व्यक्ति को गोली लगी थी. पुलिस इसे हत्या मान रही है.

इस बीच तीन दिन पहले उत्तरी लंदन में शुरू हुई हिंसा और आगजनी अब शहर के अन्य इलाक़ों में भी फैल गई है. ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन अपनी छुट्टियां बीच में ही छोड़ वापस लौट आए हैं.

कैमरन ने कहा है कि सरकार कानून व्यवस्था बहाल करने के लिए जो भी ज़रूरी होगा वो किया जाएगा. उन्होंने कहा कि लंदन में जो कुछ भी हो रहा है वो निंदनीय अपराध है और उसे हर हाल में हराया जाएगा.

प्रधानमंत्री ने कहा कि आने वाले दिनों में और अधिक गिरफ़्तारियां होंगी.

डेविड कैमरन ने कहा, "आपराधिक गतिविधियों के लिए ज़िम्मेदार लोगों के लिए मेरा साफ़ संदेश ये है - आपको क़ानून की ताक़त का अहसास करवाया जाएगा. अगर आप ऐसे अपराध करने के लिए बालिग हैं तो आप सज़ा पाने के लिए भी बालिग हैं. "

लंदन में हिंसा, आगजनी की तस्वीरें

उन्होंने कहा कि दंगाइयों के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई की जाएगी. प्रधानमंत्री ने कहा कि गुरुवार को संसद के एक विशेष सत्र में वो इस हिंसा के बारे में बयान देंगे.

इस बीच लंदन में हिंसा के चलते बुधवार को वेंबली स्टेडियम में इंग्लैंड और नीदरलैंड्स के बीच होने वाला फ़्रैंडली फ़ुटबॉल मैच स्थगित कर दिया गया है.

हिंसा जारी

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption प्रधानमंत्री संसद के विशेष सत्र में गुरुवार को अपना बयान रखेंगे.

लंदन के बर्मिंघम, लीवरपूल, नॉटिंघम और ब्रिस्टल में भी हिंसा हुई है.

हिंसा का ये दौर शनिवार को लंदन के टोटेनहैम इलाक़े में एक शांतिपूर्ण प्रदर्शन के दौरान पुलिस की गोली से एक व्यक्ति की मौत से बाद शुरू हुआ.

मैट्रोपोलिटन पुलिस ने कहा है कि पिछले तीन दिनों में आपराधिक गतिविधियों के लिए चार सौ लोगों को हिरासत में लिया गया है.

इनमें से तीन की हत्या करने के प्रयास के संदेह में पूछताछ भी की जा रही है.

पुलिस अधिकारी स्टीवन कवानाग ने बीबीसी को बताया, " पुलिस को उम्मीद कहीं अधिक काम करना पड़ा है. ऐसा पहले कभी नहीं हुआ. "

लंदन के कार्यकारी पुलिस अधीक्षक टिम गॉडविन ने कहा कि शहर में फैली हिंसा को रोकने के लिए सेना को नहीं बुलाया जाएगा.

उन्होंने कहा कि अब से सड़कों पर पुलिस बल की संख्या में भारी बढोतरी की जाएगी.

सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट ट्विटर पर स्कॉटलैंड यार्ड ने कहा, "अगले चौबीस घंटों में 13 हज़ार पुलिसकर्मी लंदन में ड्यूटी पर होंगे. "

सोमवार की हिंसा

सोमवार को हिंसा हैक्नी में शुरू हुई. वहां पर एक व्यक्ति को पुलिस ने रोका और उसकी तलाशी ली लेकिन उसके पास कुछ भी आपत्तिजनक नहीं निकला.

इसके बाद हैक्नी में कुछ लोगों ने पुलिस पर हमले करने शुरू कर दिए. लोग पुलिसकर्मियों पर पत्थरों से हमला कर रहे थे. डंडों और धातु की छड़ों से लैस युवकों ने पुलिस की कई गाड़ियों को तोड़ डाला.

कई लोगों ने दुकानों में भी तोड़-फोड़ की.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार