इतिहास के पन्नों से

  • 12 अगस्त 2011

बारह अगस्त के नाम कई घटनाएं दर्ज हैं. इसी दिन जापान में विमान हादसे में 500 से ज़्यादा लोग मारे गए थे और पत्रकार एंड्र्यू गिलिगन ने ये स्वीकार किया था कि इराक़ पर उनकी रिपोर्ट की भाषा सही नहीं थी.

1985: बोइंग विमान हादसे में सैकड़ों की मौत

Image caption विमान की तस्वीर एक शौकिया फ़ोटोग्राफ़र ने ली थी

12 अगस्त 1985 को जापान एयरलाइन का एक विशाल विमान राजधानी टोक्यो से 70 मील दूर ओसूटाका पर्वत से जा टकराया था.

विमान पर चालक दल के 15 सदस्यों के साथ 509 यात्री सवार थे. इनमें से ज़्यादातर लोग टोक्यो से ओसाका छुट्टियां मनाने जा रहे थे.

इस हादसे में संभवत: कोई भी यात्री जीवित नहीं बचा था. उड़ान भरने के 10 मिनट बाद ही विमान के पायलट ने एयर ट्रैफ़िक कंट्रोल को बताया था कि विमान का पिछला दरवाज़ा क्षतिग्रस्त हो गया है और वो टोक्यो लौटकर इमरजेंसी लैंडिंग कर रहे हैं.

लेकिन कुछ ही मिनट बाद उन्होंने दोबारा सूचित किया कि विमान पर उनका नियंत्रण समाप्त हो गया है.

इसके बाद ही विमान रडार स्क्रीन से ओझल हो गया था. पिछले दो महीनों में बोइंग 747 के साथ हुआ ये दूसरा हादसा था.

1985 के जून महीने में एयर इंडिया का बोइंग विमान दक्षिणी आयरलैंड के निकट अटलांटिक महासागर में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था जिसमें विमान में सवार सभी 329 लोग मारे गए थे.

2003 : गिलियन से भाषा की ग़लती स्वीकारी

Image caption लॉर्ड हटन ने एंड्र्यू गिलिगन से चार घंटे तक पूछताछ की थी

इसी दिन 2003 में हथियार विशेषज्ञ डॉक्टर डेविड केली की मौत से जुड़े विवाद के केंद्र में रहे पत्रकार एंड्र्यू गिलिगन ने ये स्वीकार किया था कि उनकी रिपोर्ट की भाषा सही नहीं थी.

बीबीसी रेडियो फ़ोर के रक्षा संवाददाता गिलिगन ने अपनी रिपोर्ट में कहा था कि ब्रिटेन की सरकार ने इराक़ में हथियारों को लेकर जो दस्तावेज़ तैयार किया था उसमें तथ्यों को बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया गया था.

गिलिगन ने ये बातें डेविड केली की मौत की जांच कर रहे लॉर्ड हटन को बताई थीं.

लेकिन चार घंटे तक चली पूछताछ में ये बात पता चली कि बीबीसी के एक आंतरिक ईमेल में गिलिगन की रिपोर्ट को दोषपूर्ण करार दिया गया था.

गिलिगन की रिपोर्ट के संभावित स्रोत होने होने की ख़बर सार्वजनिक होने पर हथियार विशेषज्ञ डॉक्टर केली ने जुलाई महीने में आत्महत्या कर ली थी.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार