साउथहॉल के लोगों ने दिखाया दम: कैमरन

  • 12 अगस्त 2011
इमेज कॉपीरइट none

ब्रिटेन में पिछले कुछ दिनों में हुए दंगों के दौरान कई दुकानों को आग लगा दी गई और कई जगह तोड़-फ़ोड़ हुई है.

लेकिन इस दौरान कई क्षेत्रों के लोगों ने आगे बढ़कर ख़ुद अपने इलाक़ों की सुरक्षा की ज़िम्मेदारी ली. इसमें लंदन के पास का साउथहॉल भी शामिल है. यहाँ भारत के सिख समुदाय के लोग बड़ी संख्या में रहते हैं.

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने भी संसद में दिए अपने भाषण में साउथहॉल के लोगों की तारीफ़ की है.

उन्होंने गुरुवार को अपने भाषण में कहा, "मिस्टर स्पीकर पिछले कुछ दिनों हम कई तरह की भावनाओं से गुज़रे हैं- ग़ु्स्सा, डर, हताशा, दुख और आख़िरकर एक दृढ़ निश्चय कि हम कुछ हिंसक लोगों को हावी नहीं होने देंगे. ये निश्चय हमने मैनचेस्टर के इलाक़ों में देखा जब लोग सड़कें साफ़ करने के लिए बाहर आ गए. हमने यही बात उन लोगों में देखी जो साउथहॉल में अपने गुरुद्वारों के बाहर खड़े थे ताकि उसे हुड़दंगियों से बचाया जा सके."

कैमरन ने अपने भाषण में माना कि दंगों के शुरुआती दिनों में सड़कों पर पुलिस पर्याप्त संख्या में नहीं थी. उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस ने दंगों को आपराधिक कृत्य के बजाए सार्वजनिक क़ानून व्यवस्था का वाक्या माना.

हालात को देखते हुए ब्रिटेन में गुरुवार को इंग्लिश प्रीमियर लीग का पहला मैच रद्द कर दिया गया था. ये मैच लंदन में होना था. लीगा का कहना है कि पुलिस ने ऐसी सलाह दी थी.

संबंधित समाचार