ग्यारह महिलाओं के हत्यारे को मौत की सज़ा

  • 13 अगस्त 2011
सोवेल
Image caption पुलिस को हत्याओं का तब पता चला जब यौन दुर्व्यवहार के आरोप में वह सोवेल को गिरफ़्तार करने उसके घर पहुँची

अमरीका में ओहायो में 11 महिलाओं की हत्या और फिर उनके शवों को अपने घर और बगीचे में रखने के जुर्म में एक पूर्व मरीन सैनिक को मौत की सज़ा सुनाई गई है.

पूर्व मरीन सैनिक एंथनी सोवेल को ग्यारह महिलाओं की हत्या के संबंध में पिछले महीने हत्या, अपहरण और कई अन्य जुर्म करने का दोषी पाया गया था.

क्लीवलैंड में एक न्यायालय ने 51 वर्षीय सोवेल को मौत की सज़ा सुनाई. जब सज़ा सुनाई जा रही थी तब सोवेल अपनी आंखे बंद कर बैठा रहा. उसे 29 अक्तूबर 2012 को ज़हर का इंजेक्शन दिया जाना है लेकिन संभवत: वह इस सज़ा के ख़िलाफ़ अपील करेगा और उसे सज़ा मिलने में विलंभ हो सकता है.

शराब और कोकेन का प्रलोभन

जज डिक एंब्रोस ने अदालत में हत्या के हर मामले का ब्योरा दिया.

इन हत्याओं के बारे में अक्तूबर 2009 में तब पता चला जब पुलिस सोवेल को यौन दुर्व्यवहार के एक आरोप से सिलसिले में गिरफ़्तार करने उनके घर गई.

जज एंब्रोस ने बताया किस तरह से महिलाओं के शवों को प्लास्टिक के थैलों में उनके घर और बगीचे में इधर उधर रखा हुआ था.

अधिकतर महिलाओं की गला दबाकर हत्या की गई थी और उनके शरीर के निचले हिस्से नग्न थे.

इन महिलाओं का लापता होने का सिलसिला वर्ष 2007 से शुरु हुआ.

अभियोजन पक्ष का दावा था कि सोवेल इन महिलाओं को शराब पिलाने और कोकेन के प्रलोभन देकर अपने तीन मंज़िला घर में ले जाता था और फिर 'सेक्स' या हिंसक बलात्कार के बाद रस्सी, कपड़े या बिजली की तार से उनका गला दबा देता था.

बच गई एक महिला ने कहा - 'कोई गुस्सा नहीं'

जज एंब्रोस ने कहा कि बचपन में सोवेल के द्वारा सही गई परेशानियों, उसकी आठ साल अमरीकी मरीन सेवा या फिर उसके दिमागी संतुलन खोने के कारण उसे रियायत नहीं दी जा सकती है.

जज ने कहा कि ग़ौरतलब है कि सोवेल बलात्कार करने के प्रयास के कारण 15 साल की जेल की सज़ा भुगत चुका है.

मृतकों के अनेक रिश्तेदार अदालत में मंज़ूर थे और अनेक के कहा कि उन्होंने सोवेल को माफ़ कर दिया है नहीं तो उनके लिए अपनी ज़िदगी आगे जीना मुश्किल हो जाता.

सोवेल के हत्या के प्रयास से बच गई एक महिला ने कहा कि वह अब उससे गुस्सा नहीं है.

इससे पहले सोवेल ने कहा था कि वे केवल इतना कहना चाहता है कि उसे अफ़सोस है. उसने कहा कि 'शायद ये पर्याप्त नहीं लेकिन उसे दिल से अफ़सोस है.'

संबंधित समाचार