सीरियाई राष्ट्रपति को रुस से मिली राहत

सीरिया इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption खबरों के मुताबिक शुक्रवार की नमाज़ के बाद भी कई इलाकों से गोलीबारी की आवाज़ सुनी गई.

सीरिया में लगातार हो रहे हिंसक प्रदर्शनों के बीच रुस ने अमरीका और यूरोप की ओर से सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल-असद से की गई सत्ता छोड़ने की मांग का विरोध किया है.

रुस के विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा है कि राष्ट्रपति असद को देश में सुधार लागू करने के लिए पर्याप्त समय मिलना चाहिए.

सीरियाई सरकार पहले ही कह चुकी है कि राष्ट्रपति बशर अल-असद से सत्ता छोड़ने की मांग करना नाजायज़ और अवैधानिक है.

इससे पहले अमरीका और यूरोप के कई प्रमुख देशों के नेताओं ने राष्ट्रपति बशर अल असद से कहा है कि वो पद छोड़ दें.

सीरिया ने दावा किया है कि प्रदर्शनकारियों के ख़िलाफ़ सभी सैनिक कार्रवाई रोक दी गई है. हालांकि इस दावे की कोई स्वतंत्र पुष्ठि नहीं हो पाई है.

संयुक्त राष्ट्र में सीरिया के राजदूत बशर जाफ़री ने कहा, "ये एक ज़मीनी सच है, सीरिया में पुलिस और सैन्य कार्रवाई रोक दी गई है."

इससे पहले संयुक्त राष्ट्र ने फैसला किया है कि वो एक मानवीय मिशन सीरिया भजेगा.

मानवीय मिशन

शनिवार को भेजे जानेवाले इस मिशन से सीरिया की हुकुमत ने वादा किया है कि वो देश के किसी भी हिस्से का दौरा कर सकता है.

संयुक्त राष्ट्र की मानवधिकार मामलों की प्रमुख वैलेरी अमोस का कहना है कि मिशन उन इलाकों में ध्यान केंद्रित करेगा जहां से लड़ाई की ख़बरे हैं.

हालांकि होम्स शहर से आ रही खबरों के मुताबिक शुक्रवार की नमाज़ के बाद शुरु हुए प्रदर्शनों के दौरान भी कई इलाकों में गोलीबारी की आवाज़ सुनी गई है.

बीबीसी संवाददाता लियोनिड रैगोज़िन के मुताबिक रुस ने इस घोषणा के साथ यह संकेत दिया है कि बशर अल-असद के लिए सत्ता छोड़ने का समय करीब नहीं है क्योंकि देश में अब लोकतांत्रिक सुधार लागू करने का समय है और इसके लिए उन्हें समय मिलना चाहिए.

अंतरराष्ट्रीय दबाव

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption बशर अल असद ने अभी तक पद छोड़ने का कोई संकेत नहीं दिया है.

रुस के एक वरिष्ठ सांसद के मुताबिक अमरीका और यूरोप में सीरियाई सरकार की ओर से प्रदर्शनकारियों के दमन की बात पूरी तरह सही नहीं हैं.

उनका कहना है कि कई प्रदर्शनकारियों के संबंध चरमपंथियों के साथ भी हो सकते हैं.

दुनिया भर के नेताओं ने सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद से पद छोड़ने की अपील की है.

अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा कि अब समय आ गया है कि असद अपना पद छोड़ दें.

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कहा जा रहा है कि बशर अल असद ने सीरिया में सरकार विरोधी प्रदर्शनों को कुचलने के लिए सेना और टैंकों तक का प्रयोग किया है.

संबंधित समाचार