बलात्कार के आरोपों से मुक्त कान

स्ट्रॉस-कान इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption अभियोक्ताओं ने स्ट्रॉस-कान पर लगे आरोप हटाए जाने की सिफ़ारिश की है

अमरीका की एक अदालत ने अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष के पूर्व प्रमुख डोमिनिक स्ट्रॉस कान के ख़िलाफ़ यौन दुराचार के आरोप को वापस लेने का फ़ैसला किया है.

वकीलों का कहना है कि वे स्ट्रॉस कान के उस तर्क को इनकार नहीं कर सकते कि होटल की एक कर्मचारी के साथ जो भी हुआ, वो सहमति से हुआ. अब स्ट्रॉस कान फ़्रांस जाने के लिए आज़ाद हैं. उनके मित्रों का कहना है कि वे राजनीति में लौटेंगे.

न्यूयॉर्क में अभियोक्ताओं ने कान के विरुद्ध लगे बलात्कार के आरोप हटाए जाने की सिफ़ारिश की थी. उन्होंने जज से कहा कि वे कान के "दोषी होने के बारे में पुख़्ता तौर पर कुछ नहीं कह सकते".

उन पर होटल की एक कर्मचारी नफ़ीसातू डिएलो ने आरोप लगाया था कि मगर पिछले कुछ हफ़्तों में डिएलो की विश्वसनीयता पर और उनके मक़सद पर ही सवाल उठने लगे थे.

गिरफ़्तारी

स्ट्रॉस कान को मई में गिरफ़्तार किया गया था जब उन पर 32 वर्षीया अफ़्रीकी आप्रवासी डिएलो के साथ बलात्कार का आरोप लगा.

इसके बाद न्यूयॉर्क स्टेट कोर्ट में अभियोक्ताओं ने जज को बताया, "डिएलो ने छोटे-बड़े मसलों पर पूरी सच्चाई नहीं बरती है."

हालाँकि डिएलो ने उनके विरुद्ध एक सिविल मुक़दमा भी दायर कर रखा है.

अदालत में अभियोक्ताओं ने डॉमिनिक स्ट्रॉस-कान के विरुद्ध जुटाया गया ब्यौरा रखा और साथ ही बताया कि कैसे उन्हें जल्दी ही शक़ होने लगा था.

अभियोक्ताओं के अनुसार, "वैज्ञानिक और अन्य सबूत ये बताते हैं कि प्रतिवादी ने शिकायतकर्ता के साथ काफ़ी जल्दीबाज़ी में यौन संबंध बनाया मगर शिकायतकर्ता के उन आरोपों की स्वतंत्र रूप से पुष्टि नहीं हो सकी जिसमें ज़बरदस्ती की बात कही गई थी."

अभियोक्ताओं से मुलाक़ात के बाद संवाददाताओं से बात करते हुए डिएलो के वकील केनेथ टॉमसन ने ज़ोर देकर कहा कि न्याय नहीं हुआ है.

संबंधित समाचार