पुलिस और प्रदर्शनकारियों में झड़प

  • 30 अगस्त 2011
जोहानेसबर्ग इमेज कॉपीरइट AP

दक्षिण अफ़्रीका के जोहानेसबर्ग में सत्ताधारी अफ़्रीकी नेशनल कांग्रेस (एएनसी) की युवा इकाई के नेता जुलियस मलेमा के समर्थकों और पुलिस के बीच झड़प हुई है.

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक़ कुछ पत्रकार भी झड़प के दौरान घायल हुए हैं.

ये झड़प एएनसी के मुख्यालय के आसपास हुई. मुख्यालय में मलेमा के ख़िलाफ़ अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू हुई है. मंगलवार को इसकी सुनवाई का पहला दिन था.

तीस वर्षीय मलेमा पर पार्टी में फूट डालने और पार्टी को बदनाम करने का आरोप है. मलेमा ने अपने समर्थकों से संयम बरतने की अपील की है.

एक समय राष्ट्रपति जैकब ज़ूमा के क़रीबी समझे जाने वाले जुलियस मलेमा इस समय उनके बड़े आलोचक बन गए हैं.

प्रदर्शन

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption मलेमा के ख़िलाफ़ कई गंभीर आरोप लगे हैं

मंगलवार को उनके समर्थकों ने पुलिस पर पत्थर फेंके. दिनभर में मलेमा समर्थक पार्टी मुख्यालय के आसपास जमे रहे और नारेबाज़ी करते रहे. कुछ समर्थकों ने राष्ट्रपति जैकब ज़ूमा के ख़िलाफ़ भी नारे लगाए.

बाद में अफ़्रीकी नेशनल कांग्रेस ने कहा है कि अब ये सुनवाई किसी गुप्त जगह पर होगी, ताकि ऐसी घटना न हो.

माना जा रहा है कि मलेमा और पाँच अन्य युवा इकाई के नेता सुनवाई के बाद पार्टी से निष्कासित किए जा सकते हैं.

सोमवार को ही मलेमा ने कहा था कि वे समिति के फ़ैसले को स्वीकार करेंगे. उन्होंने कहा था, "हम अपनी कार्रवाई की ज़िम्मेदारी लेते हैं. हम किसी भी चीज़ के लिए तैयार हैं. हमने हमेशा से यही माना है कि एएनसी हमारा भविष्य है. अगर ये भविष्य हमारा निष्कासन है, तो ऐसा होने दीजिए."

बीबीसी संवाददाताओं का कहना है कि देश के खनन क्षेत्र के राष्ट्रीयकरण और गोरों के फ़ॉर्म पर नियंत्रण के मलेमा के आह्वान पर पार्टी नाराज़ है, लेकिन इस आह्वान के कारण काले समुदाय में उनका राजनीतिक आधार और लोकप्रिय हुआ है.