इटली: शहर ने खुद को ‘आज़ाद’ घोषित किया

  • 3 सितंबर 2011
शहर के मेयर लूसा सेलेरी इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption नौकरी खतरे में आने के बाद शहर के मेयर लूसा सेलेरी को यह योजना सूझी.

इटली के एक शहर को जब सरकार की ओर से लागू की गई खर्चों में कटौती की योजना रास नहीं आई तो इस शहर ने खुद को आज़ाद घोषित करके अपनी मुद्रा छापनी शुरु कर दी.

रोम से 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित 'फिलेटिनो' शहर का प्रशासन सरकार की ओर से लागू की गई खर्च में कटौती की घोषणाओं का विरोध कर रहा है.

इस शहर में केवल 550 घर हैं और खर्च में कटौती के लिए इस शहर को उसके पड़ोसी शहर ट्रेवी के साथ मिलाए जाने की घोषणा की गई है.

इस घोषणा के बाद शहर के महापौर लूसा सेलेरी की नौकरी खतरे में आ गई और ऐसे में उन्हें यह योजना सूझी.

उन्होंने शहर की एक नई मुद्रा बनाई जिसका नाम रखा गया ‘फियोरिटो’. स्थानीय दुकानों में नई मुद्रा का इस्तेमाल भी शुरु हो गया है.

‘स्वतंत्र शहर’

अब इस शहर में पर्यटकों का तांता लग गया है और घूमने आने वाले पर्यटक अब इस नई मुद्रा को अपने साथ निशानी के रुप में ले जा रहे हैं.

इस बीच शहर के लोग खुद को मिल रही अंतरराष्ट्रीय ख्याति से बेहद खुश हैं और शहर की नई वेबसाइट भी बनकर तैयार है.

रुस सहित दुनियाभर के मीडिया में इस शहर की खबर छाई है.

शहर के मेयर का कहना है कि इटली में पहले भी कई छोटे-छोटे ‘स्वतंत्र शहर’ रहे हैं और फिलेटिनो का स्वतंत्र रहना मुमकिन है.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार