इतिहास के पन्नों से

साल 2008 में सितंबर 15 ही के दिन अमरीका के चौथे सबसे बड़े निवेश बैंक लीमैन ब्रदर्स ने अपने आप को दिवालिया घोषित किया था. आज ही द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान ब्रिटेन ने जर्मनी के कई लड़ाकू जहाज़ ख़त्म कर दिए थे.

2008 : लीमैन ब्रदर्स दिवालिया

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption लीमैन का दिवालिया होना वैश्विक मंदी के कारकों में से एक था.

साल में अमरीका के सबसे बड़े बैंकों में से एक लीमैन ब्रदर्स ने अपने आप को दिवालिया घोषित कर दिया. यह अब तक की अमरीकी इतिहास कि दिवालिया होने की सबसे बड़ी घटना थी. लीमैन का दिवालिया होना वैश्विक मंदी के कारकों में से एक था.

लीमैन जो की गोल्ड मैन सैक्स, मोर्गन स्टैनली और मैरिल लिंच के बाद चौथा सबसे बड़ा बैंक था, जो ग्राहकों के अचानक पलायन और ज़बरदस्त घाटे की वजह से ढ़ह गया.

इसके दिवालिया होने के बाद के सालों में हुई व्यापक जांचों में जांचकर्ताओं ने इस बैंक को अपने लेखे जोखे में हेर फेर के लिए ज़िम्मेदार बताया. जांचकर्ताओं ने पाया कि इस बैंक के कर्मचारियों के बैंक की वित्तीय हालत को बढ़िया बताने के लिए बड़े पैमाने पर अपने खातों में हेर फेर की.

बाद के दिनों में कई दूसरे बैंकों ने लीमैन ब्रदर्स के व्यवसाय के भिन्न भिन्न टुकड़े खरीद लिए.

1940 : ब्रितानी वायुसेना ने जर्मन वायुसेना को शिकस्त दी

Image caption इस लड़ाई के दौरान जर्मनी और ब्रिटेन दोनों ने ही बढ़ा चढ़ा कर अपने अपने दावे पेश किये.

द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान ब्रिटेन की वायुसेना ने दावा किया कि इसने हिटलर की जर्मन वायुसेना को शिकस्त दे दी है. जर्मन वायुसेना लुफ्त्वाफ़ के नाम से जानी जाती थी. ब्रितानी वायुसेना ने दावा किया कि इसने जर्मन वायुसेना के 176 जहाज़ मार गिराए हैं.

ब्रितानी वायुसेना ने यह भी दावा किया कि इसके अपने केवल 25 जंगी जहाज़ और 13 पायलट इस लड़ाई में गए हैं.

बाद के दिनों में यह साफ़ हुआ की इस लड़ाई के दौरान जर्मनी और ब्रिटेन दोनों ने ही बढ़ा चढ़ा कर अपने अपने दावे पेश किये. बाद में यह पता लगा कि सितंबर 15 के रोज़ ब्रिटेन ने जर्मनी के 60 लड़ाकू जहाज़ गिराए थे. पर यह तय था की जर्मनी जिस तेज़ी से अपने जहाज़ खो रहा था वो उस तेज़ी से नए जहाज़ नहीं ला पा रहा था. ब्रिटेन के हाथों हुए नुकसान के वजह से जर्मनी ने ब्रिटेन में अपनी ज़मीनी सेनाओं को भेजने का इरादा छोड़ दिया.

कई दिनों तक चले इस युद्ध में ब्रिटेन ने जर्मनी के 2698 हवाई जहाज़ों को मार गिराने के दावा किया लेकिन दरअसल यह संख्या 1294 थी. जर्मनी ने 3058 ब्रितानी जहाज़ ख़त्म करने का दावा किया था लकिन दरअसल यह तादाद 788 की थी.

संबंधित समाचार