ऑस्ट्रेलिया में तीसरे लिंग का विकल्प भी

Image caption ऑस्ट्रेलिया में पासपोर्ट में लिंग के कॉलम में तीसरी विकल्प भी

ऑस्ट्रेलिया में पासपोर्ट का आवेदन करने वालों के लिए नए दिशा निर्देश जारी किए गए हैं.

इसके अनुसार लिंग भेद मिटाने के लिए पुरुषों और महिलाओं के अलावा एक तीसरा विकल्प भी दिया गया है.

ट्रांसजेंडर लोगों के लिए तीसरा विकल्प एक्स दिया गया है.

ट्रांसजेंडर यानी वो पुरुष जो लड़कियों की तरह दिखने के लिए वैसे ही कपड़े पहनते हैं और लड़कियों की तरह ही व्यवहार करते हैं.

वैसे ट्रांसजेंडर ऐसी लड़कियों को भी कहा जा सकता है जो लड़कों की तरह रहती और व्यवहार करती हैं.

मदद

एक ऑस्ट्रेलियाई सांसद लुई प्रैट ने कहा है कि इस नए क़दम से उन यात्रियों को मदद मिलेगी, जिन्हें हवाई अड्डों पर इसलिए सवालों का सामना करना पड़ता था क्योंकि उनका चेहरा पासपोर्ट में बताए गए लिंग से मेल नहीं खाता था.

लुई प्रैट संगनी महिला के रूप में जन्मी थी और अब पुरुष हो गई हैं.

पासपोर्ट में लिंग के कॉलम में तीसरा विकल्प लिखने के लिए डॉक्टर के सर्टिफ़िकेट की ज़रूरत होगी.

विदेश मंत्री केविन रड ने कहा कि नए दिशानिर्देशों से लिंग पहचान के आधार पर भेदभाव समाप्त हो जाएगा.

रड ने एक वकतव्य जारी कर कहा, "इस संशोधन से उन लोगों पर प्रशासनिक बोझ कम हो जाएगा जो एक ऐसा पासपोर्ट चाहते हैं जिसमें उनके लिंग और शारीरिक दिखावट को साफ़ साफ़ बताया गया हो."

अटॉर्नी जनरल रॉबर्ट मेक्लिलेंड ने कहा कि हालांकि इस परिवर्तन से कुछ ही ऑस्ट्रेलियावासियों को फ़र्क पड़ेगा लेकिन यह तब भी महत्वपूर्ण है क्योंकि इससे उन्हें बिना भेदभाव के सफ़र करने में मदद मिलेगी.

संबंधित समाचार