आख़िरी बुलफ़ाइट

Image caption कैटेलोनिया में बुलफ़ाइटिंग की लोकप्रियता कम हुई है लेकिन बार्सिलोना में अब भी मुक़ाबले होते हैं

स्पेन के उत्तर-पूर्वी क्षेत्र कैटालोनिया में आख़िरी बुलफ़ाइट यानि सांड़ों की लड़ाई रविवार को संपन्न हुई.

बुलफ़ाइट की इस प्राचीन परंपरा को कैटेलोनिया इलाक़े में प्रतिबंधित करने का फ़ैसला लिया गया था.

प्रतिबंध से पहले बार्सिलोना के प्राचीन अखाड़े में रविवार को हुई आख़िरी लड़ाई को देखने के लिए 20,000 दर्शक पहुंचे.

कैटालोनिया के क़ानून निर्माताओं ने 1,80,000 लोगों की दस्तख़त वाली याचिका पर ग़ौर करते हुए पिछले साल सांड़ों की लड़ाई पर प्रतिबंध लगाने के पक्ष में मतदान किया था. क़ानून निर्माताओं का कहना है कि ये खेल बर्बरतापूर्ण है, जबकि उनके विरोधी प्रतिबंध के फ़ैसले को स्पेन की उच्च अदालत में चुनौती देने की तैयारी कर रहे हैं.

टिकटें बिकीं

Image caption बुलफ़ाइटिंग के ख़िलाफ़ अभियान चला रहे लोग इसे स्पेन के अन्य इलाक़ों में भी प्रतिबंधित करवाना चाहते हैं

सांडों की लड़ाई पर औपचारिक प्रतिबंध अगले साल एक जनवरी से लागू होगा, लेकिन रविवार को कैटेलोनिया में हुई लड़ाई 2011 के सत्र की आख़िरी बुलफ़ाइट थी.

इस लड़ाई में स्पेन के शीर्ष मेटाडोर यानि सांडों से लड़नेवाले लड़ाकों ने अखाड़े में जमकर अपना हुनर दिखाया.

सांड युद्ध के ख़िलाफ़ अभियान चलानेवाले कार्यकर्ता इस प्रतिबंध को स्पेन के दूसरे इलाक़ों में भी लागू करवाना चाहते हैं.

बार्सिलोना में हुई इस ऐतिहासिक बुलफ़ाइट को देखने के लिए सारी टिकटें पहले ही बिक चुकी थीं.

टिकटों की ब्लैक मार्केटिंग भी की जा रही थी जहां उनकी वास्तविक क़ीमत से पांच गुना ज़्यादा क़ीमत वसूली गई.

बार्सिलोना के बहुचर्चित 'ला मॉन्यूमेंटल' अखाड़े में जुटी 20,000 दर्शकों की भीड़ अप्रत्याशित थी क्योंकि पिछले कुछ समय से इस खेल की लोकप्रियता कम हुई है और यही वजह है कि क्षेत्रीय संसद ने इसे प्रतिबंधित करने के पक्ष में मतदान किया.

संबंधित समाचार