आतंकवाद के आरोप में छह हिरासत में

  • 26 सितंबर 2011
बर्मिंघम में पुलिस
Image caption बर्मिंघम में पुलिस ने पिछले हफ़्ते कार्रवाई करके छह लोगों को हिरासत में लिया था

इंग्लैंड में आतंकवाद से जुड़े आरोपों में छह लोग लंदन में अदालत में पेश किए गए.

ये सभी छह मध्य इंग्लैंड के शहर बर्मिंघम से हैं. तीस वर्षीय इरफ़ान नासिर, 26 वर्षीय इरफ़ान ख़ालिद, 26 वर्षीय आशिक अली और 25 वर्षीय रहीन अहमद को 21 अक्तूबर तक हिरासत में भेज दिया गया है.

उनके अलावा बहादर अली और मोहम्मद रिज़वान को 24 अक्तूबर तक हिरासत का फ़ैसला सुनाया गया.

नासिर और ख़ालिद पर आरोप है कि वह आतंकी हमले की तैयारी कर रहे थे जिसके तहत वह आतंकवाद का प्रशिक्षण लेने पाकिस्तान भी गए थे.

इन लोगों ने शहादत का एक वीडियो बनाया था और बमबारी की योजना बना रहे थे.

आशिक अली पर बमबारी की तैयारी, आतंकवादी हमले की तैयारी के लिए अपना परिसर उपलब्ध कराने और आत्मघाती हमलावर बनने की इच्छा व्यक्त करने का आरोप है.

अहमद पर आरोप है कि उन्होंने आतंकवादी हमले के लिए धन जुटाने में मदद की और दूसरों को आतंकवाद का प्रशिक्षण लेने पाकिस्तान जाने में भी सहायता पहुँचाई.

रिज़वान और बहादर अली पर संभावित आतंकवादी हमले से जुड़ी जानकारी सार्वजनिक नहीं करने का आरोप है. इन पर आरोप है कि दोनों के पास 29 जुलाई से 19 सितंबर के बीच इस बात की जानकारी थी.

रिज़वान की ओर से तो ज़मानत की याचिका ही पेश नहीं की गई जबकि अली की ज़मानत याचिका ख़ारिज हो गई.

इन लोगों को बर्मिंघम में पिछले हफ़्ते एक पुलिस अभियान में गिरफ़्तार किया गया था.

इस बीच वहीं से गुरुवार को गिरफ़्तार किए गए 20 वर्षीय एक व्यक्ति से पूछताछ अभी जारी है. अधिकारियों के पास उन पर आरोप तय करने, उन्हें रिहा करने या और अधिक समय तक हिरासत में रखने की अपील करने के लिए 29 सितंबर तक का समय है.

संबंधित समाचार