इतिहास के पन्नों में 30 सितंबर

इतिहास में 30 सितंबर की तारीख़ के नाम कई घटनाएं दर्ज हैं. इसी दिन हॉलीवुड अभिनेता जेम्स डीन सड़क हादसे में मारे गए थे. गज़ा में एक बच्चे को गोली मारे जाने की तस्वीर टीवी पर दिखाई गई थी और रूसी राष्ट्रपति बोरिस येल्तसिन विमान में सोते रह गए थे और आयरलैंड के प्रधानमंत्री से उनकी मुलाक़ात को टालना पड़ा था.

1955: अभिनेता जेम्स डीन का कार दुर्घटना में निधन

Image caption जेम्स डीन ने हॉलीवुड में अपने छोटे करियर में तीन फ़िल्में बनाई थीं

30 सितंबर 1955 को हॉलीवुड के मशहूर अभिनेता जेम्स डीन की कैलिफ़ोर्निया में एक सड़क हादसे में मृत्यु हो गई थी.

24 वर्षीय डीन अपनी पोर्श कार चलाते हुए कैलिफ़ोर्निया के पेसो रोबल्स इलाक़े से गुज़र रहे थे कि एक दूसरी कार से आमने-सामने की टक्कर हो गई.

दुर्घटना के बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

डॉक्टरों के मुताबिक़ जेम्स डीन की गर्दन की हड्डी के साथ-साथ शरीर की कई हड्डियां टूट गई थीं.

हादसे से एक दिन पहले ही उन्होंने टेक्सास शहर पर आधारित अपनी फ़िल्म 'जायंट' पूरी की थी.

अपनी पहली फ़िल्म 'ईस्ट ऑफ़ एडन' के रिलीज़ के साथ ही जेम्स डीन अचानक स्टार बन गए थे और फ़िल्म समीक्षकों ने कहा था कि हॉलीवुड में उनका भविष्य बहुत उज्ज्वल है.

2000: गज़ा में बच्चे को गोली मारने की तस्वीरें टीवी पर दिखाई गई

Image caption Cap - तस्वीर में पिता को अपने बच्चे को गोलियों से बचाते हुए दिखाया गया है.

इसी दिन वर्ष 2000 में 12 साल के एक फ़लस्तीनी बच्चे को गोली मारे जाने की तस्वीर टीवी पर दिखाई गई थी जिसपर पूरी दुनिया में कड़ी प्रतिक्रिया और नाराज़गी जताई गई थी.

ये बच्चा गज़ा पट्टी में इसराइल-फ़लस्तीन संघर्ष के दौरान दोनों तरफ़ से हो रही गोलीबारी के बीच फंस गया था.

एक फ़्रांसीसी टेलिविज़न चैनल की ओर से ली गई तस्वीर में मोहम्मद अल दुर्राह नामक इस बच्चे को पिता की बाहों में गोली लगते दिखाया गया था जो उसे बचाने की कोशिश कर रहे थे.

इस घटना में बच्चे की मौत हो गई थी जबकि उसके पिता जमाल बुरी तरह ज़ख़्मी हो गए थे.

1994: सोते येल्तसिन ने आयरिश नेता को नाराज़ किया

Image caption येल्तसिन ने कहा उनके अंगरक्षकों ने उन्हें नहीं जगाया

30 सितंबर को ही आयरलैंड के प्रधानमंत्री टीए रेनॉल्ड्स और रूसी राष्ट्रपति बोरिस येल्तसिन की मुलाक़ात इसलिए टालनी पड़ी थी क्योंकि येल्तसिन विमान में सोते रह गए थे और आयरिश नेता को रूस के उप प्रधानमंत्री ओलेग सॉस्कोवेट्स के साथ मुलाक़ात से ही संतोष करना पड़ा था.

हुआ यूं कि आयरिश प्रधानमंत्री, उनकी पत्नी, दो मंत्री, कई सांसद और सेना का बैंड हवाई अड्डे पर येल्तसिन के विमान के उतरने का इंतज़ार कर रहे थे.

क़रीब सवा घंटे तक आसमान में मंडराने के बाद येल्तसिन का विमान जब शैनन एयरपोर्ट पर उतरा तो इंतज़ार कर रहे आयरिश प्रधानमंत्री को बताया गया कि रूसी राष्ट्रपति बहुत थके हुए हैं, बीमार हैं और सो रहे हैं.

बहरहाल येल्तसिन ने मॉस्को पहुंचने के बाद बताया कि वो सोते रह गए थे और सुरक्षा अधिकारियों ने लोगों को उन्हें जगाने नहीं दिया था.

येल्तसिन ने ये भी कहा कि वो इस राजनयिक ग़लती के लिए ज़िम्मेदार लोगों को सज़ा ज़रूर देंगे.

संबंधित समाचार