नाज़ियों पर आइंस्टाइन का पत्र नीलाम

आइंस्टाइन इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption जर्मनी में 1933 में हिटलर के सत्ता में आने के बाद आइंस्टाइन देश छोड़कर कर चले गए थे

जर्मनी में नाज़ी पार्टी की सत्ता के दौरान नाज़ियों से यहूदियों को 'गंभीर ख़तरे' का ज़िक्र करने वाली, महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टाइन की एक चिट्ठी लगभग 14 हज़ार डॉलर में कैलिफ़ोर्निया में नीलाम हुई है.

वर्ष 1939 में आइंस्टाइन ने ये पत्र न्यूयॉर्क के एक व्यवसायी हाइमन ज़िन्न को लिखा था.

टाइप की हुई ये चिट्ठी हिटलर के समय में ज़िन्न के यहूदियों को अत्याचार से बचकर भागने में उनके योगदान की प्रशंसा करती है.

आइंस्टाइन वर्ष 1933 में जर्मनी से तब भागने में सफल हुए थे जब हिटलर वहाँ सत्ता में आए थे.

दस जून 1939 में लिखे गए पत्र के अनुसार, "विरोध करने की ताकत जिसके कारण यहूदी लोग हज़ारो साल तक जीवित रहे हैं, काफ़ी हद तक उनके एक-दूसरे को मदद करने की परंपरा पर आधारित है."

आइंस्टाइन ने ये भी लिखा - "इस दुख भरे सालों में हमारी एक दूसरे की मदद के लिए तैयार रहने की परंपरा की कठिन परीक्षा हो रही है. उम्मीद है कि हम भी इस परीक्षा में उसी तरह से खरे उतर सकेंगे जिस तरह से पहले हमारे बाप-दादा खरे उतरे थे.

इस पत्र की रिज़र्व कीमत 5000 से 7000 डॉलर रखी गई थी.

संबंधित समाचार