कीनिया के सैनिक सोमालिया में घुसे

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption कीनिया के कई सैनिक सोमालिया में प्रवेश कर चुके हैं.

कीनिया ने इस्लामी चरमपंथी गुट अल शबाब के चरमपंथियों को पकड़ने के लिए अपने सैनिकों को पड़ोसी देश सोमालिया की सीमा के भीतर भेज दिया है.

कीनिया के विदेश मंत्री मोसेस मसिका वेतांगुला ने बीबीसी से बातचीत में कहा कि वो कीनिया अपना बचाव कर रहा है क्योंकि पिछले कुछ दिनों में अल शबाब ने देश में कई अपहरण किए हैं.

उधर संयुक्त राष्ट्र में सोमालिया के राजदूत ने बीबीसी से कहा कि अगर कीनिया के सैनिकों के सोमालिया में जाने की ख़बर सही है तो ये सोमालिया की संप्रभुता का उल्लंघन है.

कीनिया में कई विदेशी नागरिकों का अल शबाब ने अपहरण किया है और वो उन्हें सोमालिया ले जाते हैं.

गुरुवार को स्पेन के दो राहतकर्मियों को कीनिया के दादाब शरणार्थी शिविर से अपहरण किया गया था.

इससे पहले पिछले महीने एक ब्रितानी महिला और एक फ्रांसीसी महिला का भी समुद्र तटीय इलाक़े से अपहरण किया गया था जिसका असर कीनिया के पर्यटन उद्योग पर हो रहा है.

हालांकि अल शबाब ने अपहरणों में हाथ होने से इंकार किया है.

सोमालिया में प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि कीनिया के कई सैनिकों को टैंकों के साथ रविवार को सोमालिया की सीमा में प्रवेश करते देखा गया है.

कीनिया के विदेश मंत्री वेतांगुला का कहना था कि वो अपहरणों के कारण इस तरह की कार्रवाई के लिए बाध्य हुए हैं.

उनका कहना था, ‘‘ अगर आप कीनिया की सरकार हैं या कीनियाई नागरिक हैं तो आप क्या करेंगे. क्या आप अपहरणों के लिए ताली बजाएंगे और कहेंगे कि अपहरणकर्ताओं ने अच्छा काम किया है.’’

उनका कहना था, ‘‘ नहीं, आप अपने देश की रक्षा करेंगे. देश की और देश के लोगों की रक्षा ज़रुरी है और ऐसे में उन लोगों को वहीं खोजना होगा जहां वो रह रहे हैं.’’

वेतांगुला का कहना था कि वो सोमालिया सरकार के आग्रह पर ऐसा कर रहे हैं.

उन्होंने कहा, ‘‘हमें अपने देश की रक्षा तो करनी ही है लेकिन इस संबंध में सोमालिया सरकार ने भी आग्रह किया था.यह आतंकी गुट निर्दोष सोमालियाई नागरिकों को भी मार रहा है. कीनिया में पर्यटकों का अपहरण कर रहा है.कीनिया और सोमालिया की दोस्ती में ये गुट रोड़ा है.’’

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार क़रीब 40 टैंक सोमालिया में प्रवेश कर चुके हैं.

संबंधित समाचार