'लापता' सैनिकों पर अमरीका-उत्तर कोरिया वार्ता

अमरीकी रक्षा मंत्रालय इमेज कॉपीरइट reuters
Image caption अमरीका फिर से उत्तर कोरिया से बातचीत की प्रक्रिया शुरू करना चाहता है.

अमरीका के रक्षा मंत्रालय ने घोषणा की है कि कोरिया युद्ध के दौरान 'लापता' अमरीकी सैनिकों के अवशेषों की तलाशी के लिए उत्तरी कोरिया के साथ थाईलैंड में बातचीत शुरू होगी.

ये बातचीत छह साल के अन्तराल के बाद प्रारंभ हो रही है.

कोरिया की लड़ाई में शामिल हुए हज़ारों अमरीकी सैनिकों के ठिकाने के बारे में कोई पता नहीं है.

समझा जाता है कि उत्तरी कोरिया में पांच हज़ार से ज़्यादा अमरीकी सैनिकों के अवशेष मौजूद हैं.

विवाद

छह साल पहले तलाश के तरीक़े के प्रबंधन और संचालन पर उठे विवाद के बाद अमरीकी खोजी दल ने तलाश का काम बंद कर दिया था.

उम्मीद की जा रही है कि बैंकॉक में शुरू होने वाली वार्ता के बाद तलाश का काम फिर से शुरू हो जाएगा.

रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि इस वार्ता का ताल्लुक़ दोनों देशों के बीच जारी दूसरे मुद्दों से नहीं है.

बीबीसी के वॉशिंगटन संवाददाता एडम ब्रुक्स का कहना है कि हालांकि वॉशिंगटन में चर्चा है कि बातचीत एक व्यापक रणनीति का हिस्सा है जिसके भीतर उत्तरी कोरिया के साथ संबंधों को फिर से स्थापित करने की कोशिश होगी.

अमरीका को उम्मीद है कि इसके ज़रिए वो उत्तरी कोरिया को अपने परमाणु कार्यक्रम को रोकने के लिए राज़ी कर पाएगा.

संबंधित समाचार