इतिहास के पन्नों में 3 नवंबर

  • 3 नवंबर 2011

इतिहास में 3 नवंबर की तारीख़ कई घटनाओं के लिए महत्वपूर्ण है. इसी दिन जॉर्ज बुश दोबारा अमरीका के राष्ट्रपति बने थे और रूस ने पहली बार एक कुतिया को अंतरिक्ष में भेजा था.

2004: जॉर्ज बुश दूसरी बार राष्ट्रपति चुने गए

Image caption जॉर्ज डब्ल्यू बुश ने अपने डेमोक्रैट प्रतिद्वंद्वी जॉन केरी पर निर्णायक जीत हासिल की थी

अमरीका के राष्ट्रपति जॉर्ज बुश तीन नवंबर 2004 को दूसरी बार अमरीका के राष्ट्रपति चुने गए थे.

उन्होंने अपने प्रतिद्वंद्वी डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जॉन केरी पर आसान जीत दर्ज की थी.

जॉर्ज बुश को 51 फ़ीसदी मत मिले थे, जबकि जॉन केरी को 48 प्रतिशत लोगों ने पसंद किया था.

हालांकि न्यू मैक्सिको और आयोवा प्रांत के नतीजे आने अभी बाक़ी थे, लेकिन उससे जॉर्ज बुश की जीत पर कोई असर नहीं पड़ने वाला था.

जॉन केरी ने व्हाइट हाउस में फ़ोन कर राष्ट्रपति बुश को उनकी जीत की बधाई दी थी.

जीत के बाद जॉर्ज बुश ने कहा था कि कर सुधार, सामाजिक सुरक्षा और शिक्षा चार साल के दूसरे कार्यकाल में उनकी प्राथमिकताएं होंगी.

1957: रूस ने कुतिया को अंतरिक्ष में भेजा

Image caption उड़ान के शुरुआती घंटों में लाइका शांत नज़र आ रही थी

तीन नवंबर 1957 को सोवियत संघ ने इतिहास में पहले जीवित प्राणी को अंतरिक्ष में भेजा था.

ये जीव रूसी नस्ल की एक कुतिया थी जिसका नाम लाइका था.

लाइका को स्पुतनिक-दो नामक उपग्रह के साथ बैकानूर अंतरिक्ष स्टेशन से रवाना किया गया था.

उसी साल चार अक्तूबर को स्पुतनिक एक नामक अंतरिक्ष यान का प्रक्षेपण किया गया था जो आज भी पृथ्वी की परिक्रमा कर रहा है.

लाइका उड़ान के शुरुआती घंटों में बेहद शांत थी और उसकी हृदय गति और शरीर के दूसरे अंग भी सही तरीक़े से काम कर रहे थे.

लाइका को अंतरिक्ष में भेजने के पीछे रूसी वैज्ञानिकों का मक़सद ये जानना था कि जीवित प्राणी पर सौर विकिरण और भारहीनता का क्या असर होता है.

हालांकि पशुओं के कल्याण के लिए काम करने वाले संगठनों ने एक कुतिया को अंतरिक्ष में भेजे जाने की ख़बर पर नाराज़गी ज़ाहिर की थी.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार