'ग्रीस में राष्ट्रीय सहमति की सरकार की उम्मीद'

जोस मैनुएल बरोसो (फ़ाईल फ़ोटो) इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption ग्रीस में संकट जारी है लेकिन बरोसो ने उम्मीद जताई है कि ग्रीस यूरोज़ोन का हिस्सा बना रहेगा.

यूरोपीय आयोग के अध्यक्ष जोस मैनुएल बरोसो ने उम्मीद जताई है कि ग्रीस में एक राष्ट्रीय सहमति की सरकार बनेगी और वो यूरोज़ोन में बना रहेगा.

हालांकि बीबीसी से बातचीत करते हुए बरोसो ने कहा कि इस बात की भी संभावना है कि ग्रीस यूरो मुद्रा को छोड़ दे.

गुरूवार को फ़्रांस के राष्ट्रपति निकोला सारकोज़ी ने चेतावनी देते हुए कहा था कि अगर यूरो मुद्रा पर कोई संकट आता है तो इसका असर यूरोप पर भी पड़ेगा.

कान में चल रहे जी-20 शिखर सम्मेलन के दूसरे दिन सभी नेता इस संकट का कोई हल निकालने की कोशिश कर रहे हैं.

अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी कहा है कि शिखर सम्मेलन के सामने सबसे महत्वपूर्ण ज़िम्मेदारी यूरोज़ोन के ऋण संकट का समाधान ढूंढना है.

इस बीच ग्रीस के आर्थिक संकट को दूर करने के लिए ग्रीस की सरकार, सत्ता पार्टी के कुछ सांसद और विपक्षी पार्टी के बीच बातचीत का सिलसिला जारी है.

अहम मतदान

शुक्रवार को प्रधानमंत्री जॉर्ज पापैंद्रू के ख़िलाफ़ संसद में अविश्वास प्रस्ताव पर अहम मतदान होने वाला है.

इससे बचने के लिए प्रधानमंत्री को कई सासंदों के समर्थन की ज़रूरत है.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption पापेंद्रू पर विपक्षी दल इस्तीफ़ा देने का दबाव बनाए हुए हैं

एक महिला सांसद जिन्होंने पहले प्रधानमंत्री के ख़िलाफ़ मतदान करने की घोषणा की थी, अब वो सरकार के समर्थन में आ गई हैं.

उनके अनुसार प्रधानमंत्री पापैंद्रू के जनमत संग्रह कराने के प्रस्ताव को वापस लेने के बाद उन्होंने अपना फ़ैसला बदला है.

ग़ौरतलब है कि ग्रीस के ऋण संकट को दूर करने के लिए यूरोपीय देशों ने कुछ शर्तों के साथ ग्रीस को आर्थिक मदद देने की घोषणा की थी.

लेकिन ग्रीस के प्रधानमंत्री ने इस पर जनमत संग्रह कराने का प्रस्ताव रखा था. उनके इस प्रस्ताव से संकट और गहरा गया था.

गुरूवार को उन्होंने कहा था कि वो जनमत संग्रह के अपने प्रस्ताव को वापस लेने के लिए तैयार हैं अगर वहां एक राष्ट्रीय सहमति की सरकार बनती है.

उनके इस बयान का असर शुक्रवार की सुबह एशियाई बाज़ारों में दिखा जब लगभग सभी एशियाई बाज़ारों में उछाल देखा गया.

इन सबके बीच ग्रीस की विपक्षी पार्टी ने प्रधानमंत्री पापैंद्रू से इस्तीफ़ा देने और नया चुनाव कराने की मांग की है.

संबंधित समाचार