सीरिया: अड़तालीस घंटे में सौ लाशें

सीरियाई सेना इमेज कॉपीरइट BBC World Service

सीरिया के होम्स शहर के एक अस्पताल में पिछले 48 घंटों के दौरान सौ से ज़्यादा लाशें पहुँचाई गई हैं.

शहर के एक सरकारी अस्पताल के अधिकारियों ने बीबीसी को ये जानकारी दी है.

सरकार विरोधी संगठनों का कहना है कि फ़ौज ने होम्स शहर में विद्रोहियों पर फिर से हमले शुरू कर दिए हैं.

गुरुवार को हुई झड़पों में बीस लोग मारे गए थे. दो लोग सुरक्षा बलों की गोलियों से उस वक़्त मारे गए जब वो सीमा पार करके जॉर्डन में प्रवेश करने की कोशिश कर रहे थे.

इसी हफ़्ते की शुरुआत में अरब लीग के देशों ने कहा था कि सीरिया राजनीतिक हिंसा ख़त्म करने और सड़कों से सुरक्षा बलों को हटाने पर राज़ी हो गया है.

परखेंगे

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption प्रदर्शनकारी कई महीनों से सरकार विरोधी आंदोलन चल रहा है.

आंदोलनकारियों का कहना था कि वो सरकार के इस वचन को परखने के लिए शुक्रवार को और ज़बरदस्त आंदोलन करेंगे.

जब से राष्ट्रपति बशर अल-असद की सत्ता के ख़िलाफ़ मार्च के महीने में आंदोलन शुरू हुआ है तभी से होम्स शहर सरकार विरोधी गतिविधियों का केंद्र रहा है.

गुरुवार को बाबा अम्र ज़िले में ज़्यादातर लोग मारे गए क्योंकि वहाँ भारी बमबारी हुई थी.

विडियो फ़िल्मों में फ़ौज को टैंकों से गोले चलाते दिखाया गया है.

अलबत्ता पत्रकार सीरिया में आज़ादी से नहीं घूम पा रहे हैं इसलिए वहाँ से आने वाली सूचनाओं की पुष्टि कर पाना मुश्किल है.

दमिश्क में अधिकारियों ने कहा है कि सभी राजनीतिक क़ैदियों को रिहा कर दिया जाएगा साथ ही पत्रकारों और मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को हालात पर नज़र रखने की छूट दी जाएगी.

संबंधित समाचार