'परमाणु हथियारों पर शोध कर रहा है ईरान'

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption ईरान के नाफांज़ परमाणु संयंत्र का जायज़ा लेते राष्ट्रपति अहमदीनेजाद (फाइल फोटो)

संयुक्त राष्ट्र परमाणु ऊर्जा एजेंसी का कहना है कि उनके पास मौजूद जानकारी के मुताबिक ईरान ने ऐसे टेस्ट किए हैं जो ‘परमाणु विस्फोटक यंत्र के विकास के लिए आवश्यक’ हो सकते हैं.

ईरान के परमाणु हथियारों पर अपनी ताज़ा रिपोर्ट में आईएईए का कहना है कि उनके शोध में कंप्यूटर मॉडल भी शामिल हैं जिनकी मदद से सिर्फ़ परमाणु बम का बटन विकसित किया जा सकता है.

संवाददाताओं का कहना है कि ईरान पर आईएईए की अब तक की यह सबसे खतरनाक रिपोर्ट है.

ईरान का कहना है कि उसका परमाणु कार्यक्रम शांतिपूर्ण उद्देश्यों के लिए है.

जेनेवा में बीबीसी संवाददाता बेथनी बेल ने आईएईए की यह रिपोर्ट देखी है. बेथनी के अनुसार रिपोर्ट में ईरान के परमाणु कार्यक्रमों पर विस्तृत जानकारी दी गई है जिसमें कई नई जानकारियां भी हैं.

इन नई जानकारियों में एक विशेष प्रकार का कंप्यूटर मॉडल भी शामिल है जो सिर्फ़ और सिर्फ़ परमाणु हथियारों के लिए ही ज़रुरी हो सकता है.

रिपोर्ट के अनुसार 2008-09 में ईरान में किए गए कुछ शोध चिंता का विषय हैं.

रिपोर्ट कहता है, ‘‘ कुछ शोध तो ऐसे हैं जिसका इस्तेमाल परमाणु विस्फोट के अलावा किसी और काम के लिए समझ में नहीं आता है.’’

रिपोर्ट जारी होने से पहले इसराइली मीडिया में कयास लगाए जा रहे थे कि ईरान के परमाणु कार्यक्रमों से जुड़े परिसरों पर हमला किया जा सकता है.

हालांकि रुस ने कहा है कि आईएईए की रिपोर्ट तनाव पैदा करती है. रुस के अनुसार अगर ईरान के परमाणु कार्यक्रम के बारे में नई जानकारियों में सैनिक तत्व दिखता है तो उस पर चर्चा के लिए और समय होना चाहिए.

संबंधित समाचार