पापाडेमॉस होंगे ग्रीस के नए प्रधानमंत्री

  • 11 नवंबर 2011
लुकास पापाडेमॉस इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption लुकास पापाडेमॉस को शपथ लेने के बाद विश्वास मत भी हासिल करना होगा

कई दिनों की चर्चा के बाद यूरोपीय केंद्रीय बैंक के पूर्व उपाध्यक्ष लुकास पॉपाडेमॉस को ग्रीस का नया प्रधानमंत्री चुना गया है.

64 वर्षीय पापाडेमॉस ने कहा है कि वे ग्रीस के कठिन समय में यह पद संभालने जा रहे हैं.

अब उनके नेतृत्व में तीन मुख्य राजनीतिक दल मिलकर एक राष्ट्रीय सहमति की सरकार का गठन करने जा रहे हैं.

पापाडेमॉस वर्तमान प्रधानमंत्री पॉपेंड्र्यू का स्थान लेंगे जिन्हें यूरोज़ोन के देशों की ओर से दी जा रही मदद पर जनमंत संग्रह करवाने के विवादास्पद निर्णय के बाद पद छोड़ने पर मजबूर किया गया है.

हालांकि उन्होंने जनमत संग्रह करवाने का विचार त्याग दिया था और वे विश्वासमत हासिल करने में भी सफल हुए थे लेकिन इससे पहले उन्हें पर्याप्त राजनीतिक नुक़सान हो चुका था.

उम्मीद और चुनौती

संवाददाताओं का कहना है कि इन ख़बरों के बाद ग्रीक नागरिक उम्मीद कर सकते हैं कि अब उनके देश में स्थायित्व आएगा और वे आर्थिक संकट से उबरने के प्रयास कर सकेंगे.

पापाडेमॉस इस समय संसद के सदस्य नहीं हैं, लेकिन अगले फ़रवरी में चुनाव होने तक वे अंतरिम सरकार का नेतृत्व करेंगे.

सरकार का पहला काम ये सुनिश्चित करना होगा कि ग्रीस को यूरोज़ोन के सदस्य देशों और अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष की ओर से दिए गह 130 अरब यूरो की सहायता राशि मिल सके.

ग्रीस के राष्ट्रपति कार्यालय ने एक बयान जारी करके कहा है, "बैठक में राजनीतिक दलों के नेताओं की सिफ़ारिश के बाद लुकास पापडेमॉस से कहा है कि एक नई सरकार का गठन करें."

नई सरकार शुक्रवार को ग्रीनिच मानक समय के अनुसार दोपहर 12 बजे शपथ लेगी.

इस घोषणा के बाद पापाडेमॉस ने कहा, "मेरा काम आसान नहीं होगा लेकिन मैं आश्वस्त हूँ कि यदि एकता बनी रही और सर्वसम्मति रही तो जल्दी और ज़्यादा आसानी से समस्याएँ सुलझ जाएँगीं."

उन्होंने कहा है कि अंतरिम सरकार की पहली प्राथमिकता यूरोपीय संघ की बैठक में स्वीकृत राहत पैकेज को मंज़ूरी देना और उससे जुड़ी नीतियों को लागू करना होंगीं.

इसमें सरकार की ओर से खर्चों में और कटौती करना शामिल होगा, जिसे लेकर पहले ही लोग विरोध करते रहे हैं.

सरकार के गठन के बाद पापाडेमॉस को विश्वास मत हासिल करना होगा. सरकारी टेलीविज़न के अनुसार वे सोमवार को विश्वास मत हासिल करेंगे.

संबंधित समाचार