नाज़ियों की कब्रगाह से मिले ‘विकलांगों के शव’

(फ़ाइल चित्र) इमेज कॉपीरइट AP
Image caption शोधकर्ताओं के मुताबिक संभवत: नाज़ियों ने इन लोगों को मानसिक शारीरिक विकलांगता के चलते मार दिया.

ऑस्ट्रिया के टाइरोल प्रांत में अधिकारियों ने नाज़ी दौर की कब्रगाहों में मिले 200 से ज़्यादा शवों को निकालने का काम पूरा कर लिया है. ये कब्रगाहें इस साल की शुरुआत में मिली थीं.

बर्फ़ पिघलने के बाद से ही एक अस्पताल के प्रांगण में मौजूद कब्रों से शव निकालने का काम शुरु हो गया था.

शोधकर्ताओं के मुताबिक नाज़ियों के दौर के इन शवों में से कई की हड्डियां टूटी हुई हैं जो संभवत: अस्पताल के कर्मचारियों की ओर से पहुंचाई गई चोटों का नतीजा है.

शोधकर्ताओं के मुताबिक ये शव उन लोगों के हो सकते हैं जिन्हें मानसिक शारीरिक विकलांगता के चलते मार दिया गया.

द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान नाज़ियों ने ऐसे हज़ारों लोगों की हत्याएं की थीं जिन्हें वो शारीरिक रुप से अक्षम मानते थे. हालांकि शोधकर्ताओं का कहना है इन लोगों की मौत की सही वजह का पता लगाने से पहले कई तरह की जांच की जानी ज़रूरी हैं.

निकाले गए शवों की उम्र 14 से 90 साल के बीच है. शोधकर्ता अब इनके परिजनों और वंशजों को खोजने की प्रक्रिया में जुटे हैं. साथ ही उन लोगों की भी खोज की जा रही है जिनका ताल्लुक अस्पताल के कर्मचारियों से है.

संबंधित समाचार