जेल तोड़कर भागे अल क़ायदा चरमपंथी

  • 12 दिसंबर 2011
यमन इमेज कॉपीरइट AP
Image caption यमन के कई हिस्सों में अस्थिरता है

यमन के दक्षिणी शहर अदन में अल क़ायदा के 12 चरमपंथी जेल तोड़कर भाग गए हैं. यमन के अधिकारियों ने ये जानकारी दी है.

शहर के सेंट्रल जेल में छह मीटर सुरंग खोदकर ये चरमपंथी और दो अन्य लोग भाग गए.

यमन के अधिकारियों का कहना है कि भागने वाले चरमपंथियों में कुछ के ख़िलाफ़ बैंक डकैती की कोशिश के लिए मुक़दमे की प्रक्रिया चल रही थी, तो कुछ पर सुरक्षा अधिकारियों की हत्या के मामले दर्ज किए गए थे.

इस साल जून में भी अल क़ायदा के लड़ाकों ने अल मुकाला शहर में सेंट्रल जेल पर हमला करके कई क़ैदियों को छुड़ा लिया था.

यमन के कई हिस्सों में सेना और अल क़ायदा चरमपंथियों के बीच भारी लड़ाई चल रही है.

अस्थिरता

यमन कई मोर्चे पर राजनीतिक संकट और अस्थिरता झेल रहा है. देश के उत्तर में विद्रोह चल रहा है, तो दक्षिण में अलगाववादी आंदोलन चल रहा है, स्वतंत्र चुनाव के लिए राष्ट्रव्यापी विरोध चल रहा है, तो राजधानी सना के कई इलाक़ों में गोलीबारी चल रही है.

पिछले महीने राष्ट्रपति अली अब्दुल्लाह सालेह ने कहा था कि वे तीन महीने के अंदर उप राष्ट्रपति को सत्ता सौंप देंगे. वे 32 वर्षों से सत्ता में हैं.

अल क़ायदा चरमपंथियों और सेना के बीच सबसे भीषण लड़ाई अबयान प्रांत की राजधानी ज़िन्जीबार में चल रही है, जहाँ ज़्यादातर नियंत्रण चरमपंथियों का है.

संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि दक्षिणी यमन में संदिग्ध अल क़ायदा लड़ाकों के कारण 45 हज़ार लोग विस्थापित हुए हैं.

संबंधित समाचार