नाइजीरिया में हिंसा जारी, 50 की मौत

nigeria इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption नाइजीरिया में गुरुवार से हिंसा जारी है

नाइजीरिया में देश के उत्तर-पूर्वी भाग में सेना और संदिग्ध इस्लामी चरमपंथी गुट के बीच चल रहे हिंसक संघर्ष में 50 से ज़्यादा लोगों की मौत हो गई है.

नाइजीरिया के सेना प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल अज़ुबुइक इहेजिरिका के मुताबिक़ इस संघर्ष में दमातुरु शहर में बड़ी संख्या में बोको हरम चरमपंथी मारे गए हैं.

उन्होंने कहा, 'हमने अपने चार जवानों को खोया है लेकिन साथ ही हमने 50 से ज़्यादा को मारा भी है.'

इस चरमपंथी गुट के नाम का अर्थ है ‘पश्चिमी शिक्षा की मनाही है’ और इसके चरमपंथी अक्सर सुरक्षाबलों और सरकारी संस्थाओं को अपना निशाना बनाते हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल इहेजिरिका ने स्थानीय रेडियो को बताया, ‘चरमपंथी बहुत ही शालीन तरीक़े से अपने साथ हथियारों का ज़ख़ीरा और बम लेकर आए थे, लेकिन हमारे प्रशिक्षित सैनिकों ने उन्हें नष्ट कर दिया.’

दमातुरु के पश्चिमी हिस्से में स्थित पोतिस्कुम से हिंसक संघर्ष की ख़बरें मिली थीं. संघर्ष की शुरुआत गुरुवार को दोपहर बाद योब प्रांत की राजधानी दमातुरु में हुई थी.

बोको हरम गुट साल 2009 में उस समय चर्चा में आया जब मैदुगुरी में एक पुलिस स्टेशन पर आक्रमण के दौरान इस संगठन के सैकड़ों अनुयायी मारे गए थे.

इस संगठन के संस्थापक मोहम्मद यूसुफ़ को उस समय गिरफ़्तार कर लिया गया था, लेकिन बाद में उनकी पुलिस हिरासत में मौत हो गई थी.

यूसुफ़ के नेतृत्व में इस संगठन ने मांग की थी कि नाइजीरिया एक मुस्लिम राष्ट्र बने, लेकिन फ़िलहाल यह संगठन कई टुकड़ों में बंट गया है.

संबंधित समाचार