ईरान ने तेल आपूर्ति रोकने की धमकी दी

  • 28 दिसंबर 2011
स्ट्रेट ऑफ़ ह़ॉर्मज़ इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption स्ट्रेट ऑफ़ ह़ॉर्मुज़ को बंद करने की चेतावनी को असलीयत में पेश लाने का रास्ता ईरान के लिए आसान नही होगा

खाड़ी देशों से दुनिया भर में तेल की आपूर्ति के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले पानी के रास्ते स्ट्रेट ऑफ़ हॉर्मुज़ यानी हॉर्मुज़ जलडमरूमध्य को ईरान ने बंद करने की धमकी दी है.

ईरान के मुताबिक़ अगर उसके परमाणु कार्यक्रम पर अंकुश लगाने के इरादे से उसके तेल निर्यात करने पर अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने रोक लगाई तो वो स्ट्रेट ऑफ़ हॉर्मुज़ बंद कर देगा.

ईरान की तरफ़ से ये चेतावनी देश के उप राष्ट्रपति मोहम्मद रज़ा रहीमी ने दी.

रहीमी ने कहा है कि अगर पश्चिमी देशों ने ईरान के तेल निर्यात पर प्रतिबंध लगाया तो फिर खाड़ी देशों का एक भी बूँद तेल स्ट्रेट ऑफ़ हॉर्मुज़ से नहीं गुज़रेगा.

ईरान दुनिया का चौथा सबसे बड़ा तेल निर्यातक है.

तेल का खेल

तेल की बिक्री से ईरानी सरकार को पैसा, रणनीतिक ताक़त मिलती है और साथ ही अपने परमाणु कार्यक्रम को जारी रखने के लिए ज़रूरी मदद भी मिलती है.

अंतरराष्ट्रीय समुदाय को भी ईरान की इस रणनीति के बारे में जानकारी है.

इसी के चलते यूरोपीय संघ के विदेश मंत्रियों ने ईरान के तेल निर्यात करने पर प्रतिबंध लगाने की संभावना ज़ाहिर की थी.

यूरोपीय संघ ने मामले पर अगले साल जनवरी में विस्तृत चर्चा करने का वादा किया है.

अंतरराष्ट्रीय समुदाय के रुख़ से भड़ककर ईरान ने स्ट्रेट ऑफ़ हॉर्मुज़ को बंद करने की धमकी दे दी.

हालांकि इस चेतावनी को असलियत में पेश लाने का रास्ता ईरान के लिए आसान नहीं होगा. खाड़ी में ईरान के अलावा और भी देशों की नौ सेनाएं तैनात हैं.

अमरीकी नौ सेना दल यूएस फ़िफ्थ फ़्लीट भी उसी इलाक़े में तैनात है जो ईरान के गतिरोध पैदा करने के किसी भी कोशिश का विरोध कर सकता है.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार