व्हाइट हाउस पर फेंके गए 'धुएं बम' की जांच

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption अमरीका में वाल स्ट्रीट पर कब्ज़ा रैली के बाद लगातार ऐसी रैलियां हो रही हैं.

अमरीका की खुफिया एजेंसियां व्हाइट हाउस पर फेंके गए ‘धुएं वाले बम’ के मामले की जांच में जुट गई हैं.

मंगलवार की रात में हुई इस घटना के बाद किसी की गिरफ़्तारी तो नहीं हुई है और प्रदर्शनकारी व्हाइट हाउस के इलाक़े से दूर हो गए हैं.

मंगलवार को ‘डीसी पर कब्ज़ा’ रैली के दौरान जब प्रदर्शनकारी व्हाइट हाउस के पास पहुंचे तो किसी ने धुएं वाला बम व्हाइट हाउस के परिसर में फेंका.

पुलिस के अनुसार करीब 1500 प्रदर्शनकारी इलाक़े में जुटे हुए थे जब यह बम फेंका गया.

ख़बरों के अनुसार जब ये बम फेंका गया तब राष्ट्रपति बराक ओबामा अपनी पत्नी मिशेल ओबामा का 48 वां जन्मदिन मनाने अपने दोस्तों के साथ बाहर थे.

घटना के बाद व्हाइट हाउस में मौजूद पत्रकारों को बाहर जाने से रोक दिया गया था.

खुफिया विभाग के प्रवक्ता जॉर्ज ओगिलवी का कहना है कि इसे हटाने के उपाय किए जा रहे हैं.

इससे पहले कैपिटल हिल के पास जुटे सैकड़ों प्रदर्शनकारियों में से पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया था. ये प्रदर्शनकारी अमरीकी राजनीति में पैसों के बढ़ते प्रभाव का विरोध कर रहे थे.

यह रैली ऐसे समय में हुई थी जब अमरीकी सांसद सर्दी की छुट्टियों के बाद अपने काम पर वापस लौट रहे थे.

संबंधित समाचार