वेबसाइटों के लिए क़ानून को समर्थन घटा

विकीपीडिया इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption विकीपीडिया ने अपनी अंग्रेज़ी की सेवाएँ 24 घंटों के लिए बंद कर रखी हैं

प्रमुख इंटरनेट साइटों के विरोध की वजह से प्रस्तावित ऑनलाइन पर पाइरेसी या नकल को रोकने क़ानून से अमरीकी संसद की प्रतिनिधि सभा में कई वरिष्ठ सदस्यों ने अपना समर्थन वापस ले लिया है.

इस क़ानून के प्रस्तावकों में से एक, वरिष्ठ सांसद मार्को रुबियो ने कहा है कि अब वे इस क़ानून को अपना समर्थन नहीं देंगे.

एक और सांसद जॉन कॉर्निन ने कहा है कि संसद को इस योजना पर विचार करने के लिए और समय की ज़रूरत है.

इसके बाद संसद की प्रतिनिधि सभा के स्पीकर जॉन बोहनर ने कहा है कि अब इस क़ानून को लेकर सदन में सर्वसम्मति का अभाव है.

विरोध

इस क़ानून का कई प्रमुख इंटरनेट साइटों ने विरोध किया है.

इसमें अदालतों को ये अधिकार दिए जाना था वह वेबसाइटों को बाध्य कर सके कि वे नकली और जाली सामग्रियों को अपनी वेबसाइटों से हटाने के लिए बाध्य करें.

ऑनलाइन इनसाइक्लोपीडिया विकीपीडिया ने इसके विरोध में अपने अंग्रेज़ी की सेवाओं को 24 घंटों के लिए बंद कर दिया था.

उसका कहना है कि इससे इंटरनेट की स्वतंत्रता प्रभावित होगी.

दूसरी ओर सर्च इंजन गूगल अपनी साइट पर आने वाले लोगों से अनुरोध कर रहा था कि वे अमरीकी संसद की प्रतिनिधि सभा को दिए जाने वाले ज्ञापन को अपना समर्थन दें.

मनोरंजन कंपनियों और प्रकाशकों का कहना है कि इस प्रस्तावित क़ानून से उनकी सामग्रियों के दुरुपयोग को रोका जा सकेगा.

संबंधित समाचार