न्यूट गिंग्रिच ने जीता साउथ कैरोलीना

  • 22 जनवरी 2012
इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption गिंग्रिच की जीत ने उम्मीदवारी की दौड़ को और पेचीदा कर दिया है.

अमरीका के राष्ट्रपति चुनावों में रिपब्लिक पार्टी की तरफ से उम्मीदवारी की दौड़ में न्यूट गिंग्रिच को साउथ कैरोलीना में जीत मिली है.

अभी तक 70 प्रतिशत वोटों की गिनती हुई है जिसमें गिंग्रिच को 40 प्रतिशत और मिट रोमनी को 26 प्रतिशत वोट मिले हैं.

रिपोर्टों के अनुसार रोमनी पिछले मुकाबलों में जीत के साथ ही उम्मीदवारी के प्रबल दावेदार के रुप में उभरे थे लेकिन साउथ कैरोलीना के परिणामों ने लड़ाई को अब और पेचीदा कर दिया है.

मज़ेदार बात ये है कि 1980 के बाद से अब तक रिपब्लिकन पार्टी से जो भी उम्मीदवार साउथ कैरोलीना में जीता है उसे उम्मीदवारी ज़रुर मिली है.

हालांकि अभी भी उम्मीदवारी की दौड़ में गिंग्रिच के मुकाबले मिट रोमनी, रॉन पॉल और रिक सैंटोरम हैं लेकिन सैंटोरम और रॉन पॉल काफी पीछे चल रहे हैं.

बीबीसी के अमरीका संपादक का कहना है कि अगर पूरे परिणाम आने के बाद भी गिंग्रिच की जीत तय होती है तो ये बड़ी बात होगी क्योंकि उम्मीदवारी की दौड़ में लोग लगातार मिट रोमनी का विकल्फ खोज रहे हैं.

बीबीसी संवाददाताओं के अनुसार हो सकता है कि आने वाले सभी मतदानों में अब गिंग्रिच को बढ़त मिलती ही रहे और रोमनी पिछड़ जाएं. अगला चुनाव फ्लोरिडा में 31 जनवरी को है. फ्लोरिडा की मिली जुली आबादी और वोटिंग गिंग्रिच और रोमनी के लिए बड़ा मुकाबला साबित होने वाली है.

मतगणना के आखिरी चरण में गिंग्रिच ने अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा कि उनके पास बहुत पैसे तो नहीं है लेकिन आइडिया हैं जो पैसे वालों को पछाड़ सकते हैं.

रोमनी का कहना था कि वो आने वाले दिनों में एक एक वोट के लिए जी जान लगा देंगे.

पिछले कुछ समय से गिंग्रिच के बारे में अखबारों में काफी कुछ छप रहा था खास कर उनके निजी जीवन के बारे में. गिंग्रिच की पूर्व पत्नी ने यह इंटरव्यू देकर बवाल मचा दिया था कि गिंग्रिच एक ओपन मैरिज यानी खुली शादी चाहते थे जिसके तहत वो वैध रुप से रखैल को रख पाते.

गिंग्रिच ने इसका खंडन किया है.

अब तक तीन अलग अलग क्षेत्रों में अलग अलग परिणाम आए हैं. न्यू हैंपशायर में रोमनी जीते हैं जबकि सैंटोरम ने आइओवा में जीत दर्ज़ की थी. अब कैरोलीना में गिंग्रिच जीते हैं.

संबंधित समाचार