काहिरा में फिर झड़पें, चार की मौत

  • 4 फरवरी 2012
इमेज कॉपीरइट x

मिस्र में बुधवार को फ़ुटबॉल मैच के दौरान हुई हिंसा में 74 लोगों की मौत के बाद प्रदर्शनों का दौर जारी है. शुक्रवार को चार लोग मारे गए हैं.

बहुत से लोग मैच के दौरान प्रशंसकों को सुरक्षा न दे पाने के लिए प्रशासन को दोषी ठहरा रहे हैं.

शुक्रवार को हुई झड़पों में एक प्रदर्शनकारी और एक सैनिक की काहिरा में मौत हो गई. पत्थर फेंक रही भीड़ पर पुलिस को आँसू गैस के गोले फेंकने पड़े.

सुएज़ से भी झड़पों की ख़बरे हैं जहाँ गुरुवार को दो लोग मारे गए थे.

मिस्र में हिंसा का ये ताज़ा दौर बुधवार को तब शुरु हुआ जब पोर्ट सैद शहर में फ़ुटबॉल मैच चल रहा था. मैच में अल अहली टीम स्थानीय अल मसरी टीम से हार गई और अल अहली टीम पर हमला कर दिया गया.इसके बाद भड़की हिंसा में 74 लोग मारे गए और हज़ार से ज़्यादा घायल हो गए.

बताया जा रहा है कि मरने वालों में ज़्यादातर अल अहली टीम के समर्थक थे. फ़ुटबॉल प्रशंसकों का कहना है कि अधिकारियों ने हिंसा होने दी क्योंकि वो लोगों से पिछले साल चले आंदोलन का बदला लेना चाहते थे.

इन प्रशंसकों ने होस्नी मुबारक के ख़िलाफ़ प्रदर्शनों में हिस्सा लिया था.

फ़ुटबॉल मैच में मारे गए लोगों को लेकर गुस्से के साथ-साथ लोगों में देश में सुधारों की धीमी गति पर नाराज़गी भी है.