चुनावी दौरे पर सू ची का ज़बर्दस्त स्वागत

  • 11 फरवरी 2012
सू ची , बर्मा इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption सू ची की पार्टी 48 सीटों पर चुनाव लड़ रही है

बर्मा की लोकतंत्र समर्थक नेता आंग सान सू ची का उनके चुनाव क्षेत्र में गर्मजोशी से स्वागत हुआ है.

अप्रैल में होने वाले उप-चुनाव में कुल मिलाकर 48 सीटों के लिए चुनाव हो रहा है और सू ची काव्हमू से चुनाव लड़ रही हैं.

सू ची को 2010 के संसदीय चुनावों के बाद गृहबंदी से रिहा किया गया था.

1990 के चुनावों में उनकी पार्टी को बहुमत मिली थी लेकिन सेना ने उन्हें सत्ता में आने का मौका नहीं दिया था.

पिछले साल सेना ने सत्ता आधिकारिक तौर पर नागरिक सरकार को सौंपी जिसके बाद वहां काफ़ी परिवर्तन देखने को मिल रहा है.

बर्मा ने सैकड़ों बंदियों को रिहा किया है, विद्रोहियों के साथ युद्ध-विराम की संधि की है और अभिव्यक्ति की आज़ादी को बढ़ावा दिया है.

शनिवार को सू ची के काव्हमू में पंहुचने पर लोगों ने उनकी नैशनल लीग फॉर डेमोक्रेसी (एनएलडी) पार्टी के झंडे लहरा कर स्वागत किया.

नारेबाज़ी

लोगों ने "हम माता सू का तहे दिल से स्वागत करते हैं" और "चाची सू ची ज़िदाबाद" जैसे नारे लगाए.

सू ची ने 1990 से 2010 तक ज़्यादातर समय नज़रबंदी में बिताया.

अगर सू ची की पार्टी सभी 48 सीटों पर जीतती हैं तो भी सरकार की सत्ता पर ज़्यादा असर नहीं पड़ेगा क्योंकि उनकी पार्टी ने 2010 के चुनावों का बहिष्कार किया था.

लेकिन इसके बावजूद इस उपचुनाव का सांकेतिक महत्व बहुत ज़्यादा है.

इससे पहले जनवरी में सू ची ने चुनाव प्रचार के लिए तटीय शहर दवोए का दौरा किया और वहां भी उनकी सभाओं में काफी भीड़ जुटी थी.

थाईलैंड से बीबीसी के संवाददाता के अनुसार जहाँ भी सू ची जाती हैं उनकी एक झलक पाने के लिए भीड़ एकत्र हो जाती है क्योंकि लोग उस महिला को देखना चाहते हैं जो 15 वर्ष से नज़रबंद थी.

संबंधित समाचार